इंदौर भीषण अग्निकांड : एकतरफा प्रेम में पगलाए आशिक के लगाई आग में 7 जिंदा लोग जल गए। 

इंदौर की स्वर्ण बाग कॉलोनी की मल्टी में आग शॉर्ट सर्किट से नहीं बल्कि एक तरफा प्रेम में पगलाए आशिक ने लगाई। इस भीषण अग्निकांड में 7 जिंदगियाँ जिंदा जल गया था। पुलिस ने आरोपी संजय उर्फ शुभम दीक्षित को पुलिस ने शनिवार रात लोहा मंडी इलाके से गिरफ्तार कर लिया।आरोपी पर 30 हजार रुपए का इनाम घोषित था।

एकतरफा प्रेम में पगलाए आशिक के लगाई आग में 7 जिंदगियाँ जल गई।

सिरफिरे आशिक ने शुक्रवार देर रात एकतरफा प्यार के चलते मल्टी में रहने वाली युवती की स्कूटी में आग लगाई थी। जिसके कारण पूरी बिल्डिंग में फैल गई। इस बात का खुलासा बिल्डिंग के पास  लगे CCTV फुटेज से हुआ। फुटेज में आरोपी वाहन में आग लगाता दिखा। बताया गया की बिल्डिंग में रहने वाली युवती से उसकी कहासुनी हुई थी। इसके बाद सिरफिरे आशिक ने उसी युवती के दोपहिया वाहन में आग लगा दिया।

क्यों हुआ था कहासुनी ?

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार यह मामला एकतरफा प्रेम संबंध का है। आरोपी इसी बिल्डिंग में रहने वाली एक युवती से प्यार करता है। युवती की शादी कहीं और तय हो गई थी। लेकिन वो उसी से शादी करना चाहता था। इसी बात लेकर दोनों में विवाद हुआ था। युवती से भी पूछताछ की गई है। वह फिलहाल खतरे से बाहर है।

आरोपी के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज।

इंदौर पुलिस कमिश्नर हरिनारायण चारी मिश्र ने मीडिया को बताया कि आग लगाने वाले आरोपी का नाम संजय उर्फ शुभम दीक्षित है। संजय झांसी का रहने वाला है। आरोपी सालभर पहले ही इंदौर आया था। वह छह महीने पहले तक इसी बिल्डिंग में किराएदार के रूप में रहा था।

पुलिस के मुताबिक संजय के खिलाफ हत्या का केस दर्ज किया जाएगा। उससे पूछताछ में और भी खुलासे होने की संभावना है।

Viral Video