मध्यप्रदेश

पोस्ट ऑफिस मे करोड़ो का घोटाला करने वाले कैशियर पर मामला दर्ज़ , वजह जान माथा पीट लेंगे !

केंद्रीय जांच ब्यूरो (CBI) ने मध्य प्रदेश के कटनी जिला डाकघर में एक कैशियर से सवा दो करोड़ रुपये के गबन के आरोप में FIR दर्ज की है। कैशियर ने आम बचतकर्ताओं के पैसे को शेयर बाजार में रख कर ठगी और गबन किया है। सॉफ्टवेयर का इस्तेमाल कर कटनी के डाकघर से 2 करोड़ 19 लाख 75 हजार रुपये ठगे। 17 दिसंबर, 2021 को कटनी डाकघर में इस घोटाले का खुलासा हुआ था। 

जांच शुरू की गई

मामले की जांच जबलपुर संभाग के वरिष्ठ डाक अधीक्षक आरपीएस चौहान कर रहे थे. विभागीय जांच के बाद मामले की सूचना 22 अप्रैल को जबलपुर में सीबीआई को दी गई। सीबीआई ने मामले में 26 अप्रैल को डाकघर में तैनात कैशियर भट्टी महला कटनी निवासी जावेद अख्तर के खिलाफ मामला दर्ज किया है.

निलंबित किया गया

जावेद अख्तर को 1 फरवरी 2020 को कटनी हेड पोस्ट ऑफिस में कैशियर नियुक्त किया गया था। 17 दिसंबर 2021 तक करीब दो साल की सेवा में उन्हें डाकघर में 2 करोड़ 19 लाख 75 हजार रुपये का गबन किया था। प्रारंभिक जांच में पता चला है कि आरोपी ने पूरा पैसा पूंजी बाजार में लगाया था। वह फिलहाल सस्पेंड है। अब पांच महीने बाद इस मामले को सीबीआई को सौंप दिया गया है.

जावेद का क्या काम था ?

  • कटनी प्रधान डाकघर के अंतर्गत उप डाकघर में नकद भेजना एवं प्राप्त करना।

  • कटनी प्रधान डाकघर के अंतर्गत शाखा डाकघर में नकद भेजना एवं प्राप्त करना।

  • डाकियों के साथ नकद लेनदेन।

  • डाक टिकटों और डाक स्टेशनरी का स्टॉक बनाए रखें।

2 साल की नौकरी मे 2 करोड़ का लगाया चपत

सीबीआई ने कहा कि कटनी और जबलपुर के सभी प्रधान, उप और शाखा डाकघर जबलपुर डाक विभाग में आते हैं. कटनी प्रधान डाकघर की विभिन्न शाखाएँ हैं। करीब दो साल पहले जावेद अख्तर कटनी को प्रधान डाकघर के तहत वित्तीय लेनदेन के लिए कोषागार शाखा में तैनात किया गया था। वह 1 फरवरी, 2020 तक वहां पदस्थ रहा। उस समय उन्होंने सरकार से 2 करोड़ 19 लाख 75 हजार रुपये का गबन किया था।

सलमान खान की शादी , जानिए वायरल फोटो की सच्चाई !

तीन अलग-अलग तरीकों से किया गबन

अख्तर ने तीन अलग-अलग तरीकों से पैसे का गबन किया। 30 जून, 2020 से 19 दिसंबर, 2021 तक कुल 234 बार मे 1 करोड़ 73 लाख 70 हजार रुपये का गबन किया गया है। दूसरे तरीके से उसने 7 नवंबर से 15 दिसंबर 2021 तक 14 बार कुल 18 लाख 55 हजार रुपये और 26 अगस्त 2021 से 13 दिसंबर 2021 तक 6 बार तीसरे तरीके से 27 लाख 50 हजार रुपये का गबन किया.

कैसे किया हेरा फेरी

सूत्रों के मुताबिक, ट्रेजरी पोस्टल असिस्टेंट जाबेद अख्तर ने सभी SAP सॉफ्टवेयर मॉड्यूल पर काम किया। इस सॉफ्टवेयर के माध्यम से T-CODEZFFV50 का उपयोग करके नकदी भेजा जाता है। जावेद ने उसी तारीख को संबंधित शाखा डाकघर से रसीद दिखाने के लिए T-CODEFB01 का उपयोग किया और उसी शाखा डाकघर के लाभ केंद्र के पीओएसबी भुगतान के जीएल को भेजी गई राशि दिखाकर नकद भेजकर समायोजन दिखाया। इस तरह उसने 1 करोड़ 73 लाख 70 हजार रुपये का गबन किया।

जावेद कटनी ने प्रधान डाकघर के लाभ केंद्र स्थित डीओपी कैश से शाखा डाकघर के लाभ केंद्र में नकद भेजने और संबंधित के लाभ केंद्र पर अपने संबंधित यूजर आईडी नंबर 10087826 का उपयोग करके उसी दिन सीधे एसबी निकालने को कहा। T-CODEFB01 के माध्यम से शाखा पोस्ट कार्यालय जीएल में राशि पोस्ट करता था। इस संयोजन से उसने 18 लाख 55 हजार रुपये का गबन किया।

जावेद अख्तर अलग-अलग तारीखों में कटनी हेड पोस्ट ऑफिस से एसएपी सॉफ्टवेयर के जरिए डीओपी कैश  से कर आहरित करता था। उसी दिन पीओएस बैक ऑफिस ने नकद से पीओएसबी का भुगतान कर समायोजन दर्शा देता था। इस तरह उसने 27 लाख 50 हजार रुपये का गबन किया।

पूरा ख़बर पढने के लिए क्लिक करें

न्यूज डेस्क

उर्जांचल टाईगर (राष्ट्रीय हिन्दी मासिक पत्रिका) के दैनिक न्यूज़ पोर्टल पर समाचार और विज्ञापन देने के लिए संपर्क करें। व्हाट्स ऐप नंबर -7805875468 मेल आईडी - editor@urjanchaltiger.in
Back to top button
viral video