प्रधानमंत्री श्रमयोगी मानधन योजना‌ [PMSYM] से कैसे और किन लोगों को मिलता है पेंशन ?

सिंगरौली कलेक्टर राजीव रंजन मीना के आदेशानुसार कलेक्ट्रेट सभागार में प्रधान मंत्री श्रमयोगी मानधन योजना‌, ई-श्रम कार्ड (नेशनल डेटाबेस आफ अन आर्गनाइज़्ड वर्कर्स) एवं आयुष्मान कार्ड के संबंध में कार्यशाला का आयोजन किया गया। कार्यशाला में उपस्थित प्रतिभागियों को प्रधानमंत्री श्रमयोगी मानधन योजना‌ में अधिकाधिक पात्र हितग्राहियों के पंजीयन करवाने हेतु सीएससी संचालकों को प्रोत्साहित किया गया।

प्रधानमंत्री श्रमयोगी मानधन योजना‌ का लाभ लेने के लिए आवेदक की उम्र 18-40 वर्ष होनी चाहिए जो की असंगठित क्षेत्र में कार्यरत मजदूर हो  जिनकी मासिक आय 15000/- से कम हो तथा जिन्हें ईपीएफओ व ईएसआईसी का लाभ नहीं मिल रहा है, वे इस योजना के पात्र हैं। 60 वर्ष की आयु पूर्ण करने पर योजना के तहत उन्हें न्यूनतम 3000/- रूपये की पेंशन प्राप्त होगी।

Government scheme : सरकार से हर महीने 3,000 पाने की क्या है स्कीम। जाने कैसे करें आवेदन?

Government scheme : सरकार से हर महीने 3,000 पाने की क्या है स्कीम। जाने कैसे करें आवेदन?

इसी प्रकार प्रधानमंत्री आयुष्मान भारत योजना में शेष रह गए सभी खाद्यान्न पात्रता पर्ची धारकों के पंजीयन करने हेतु सीएससी संचालकों को प्रोत्साहित किया गया। ई-श्रम पोर्टल पर राज्य के असंगठित क्षेत्र के मजदूरों का पंजीयन करने हेतु भी प्रकिया से अवगत कराया गया। संबल योजना व भवन एवं अन्य सनिर्माण कर्मकार कल्याण मंडल में पंजीकृत श्रमिकों का पंजीयन करने हेतु सीएससी संचालकों को कैम्पों के माध्यम से पंजीयन करने हेतु शासन की मंशा से अवगत कराया गया।

कार्यशाला में श्रम विभाग के समस्त श्रम निरीक्षक गण, नगर निगम, महिला बाल विकास, सहकारिता विभाग, वन विभाग, खनिज विभाग व एनआरएलएम के प्रतिनिधि गण, जिला सीएससी समन्वयक व शासन की महत्वाकांक्षी योजनाओं को क्रियान्वित करने वाले सीएससी संचालक भी उपस्थित रहे।