बड़ी कार्यवाही : सिंगरौली में 8 करोड़ कीमत के 41500 मैट्रिक टन कोयला जप्त!

सिंगरौली कलेक्टर के निर्देश पर की गयी कार्रवाई से कोयला कारोबारी व ठेकेदारों में हड़कम्प मच गया है। राजस्व, खनिज, पर्यावरण प्रदूषण, एनसीएल और रेलवे की संयुक्त टीम ने सिंगरौली जिले के चितरंगी तहसील क्षेत्र के नौढिय़ा गांव में निजी और सरकारी जमीन पर एनसीएल और अवैध कोयला करीब 41500 मैट्रिक टन भंडार करने की सूचना पर कार्रवाई किया गया। जब्त कोयले की कीमत 8 करोड़ रुपये से ज्यादा बताया जा रहा है। अब 8 कोयला कंपनियों के खिलाफ कार्रवाई की जा रही है। 

बड़ी कार्यवाही : सिंगरौली में 8 करोड़ कीमत के 41500 मैट्रिक टन कोयला जप्त!

दरअसल, रेलवे साइडिंग महदेईया के बाहर 8 कोयला कंपनियों के ठेकेदारों द्वारा NCL,सरकारी व निजी भूमि पर बिना वैधानिक अनुमति के बड़ी मात्रा में कोयले का भंडार किया गया था। जिससे पर्यावरण पर भारी असर पड़ रहा था।

बड़ी कार्यवाही : सिंगरौली में 8 करोड़ कीमत के 41500 मैट्रिक टन कोयला जप्त!
बड़ी कार्यवाही : सिंगरौली में 8 करोड़ कीमत के 41500 मैट्रिक टन कोयला जप्त!

सिंगरौली कलेक्टर राजीव रंजन मीणा के निर्देश पर एसडीएम नीलेश शर्मा, खनिज अधिकारी एके राय व टीम से जुड़े अन्य पदाधिकारियों के निर्देश पर कार्यवाही कर रेलवे साइडिंग महदेईया एवं नौढिय़ा में बिना अनुमति भंडारित 41500 मीट्रिक टन  कोयला जब्त किया गया। जिसकी कीमत 8 करोड़ रुपए बताया जा रहा है।

सभी अवैध भंडारणकर्ताओं के विरुद्ध मध्यप्रदेश अवैध (खनन परिवहन तथा भंडारण का निवारण) नियम 2006 के तहत प्रकरण दर्ज कर मनननीय न्यायलय कलेक्टर सिंगरौली के समक्ष अग्रिम कार्यवाही के लिए पेश किया जाएगा।