शादी के कार्ड पर छपा दहेज़ मुक्त भारत का सन्देश बना चर्चा का विषय !

  • शादी के लिए छपा कार्ड इलाके में बना चर्चा का विषय

  • सच होगा सपना सबका दहेज़ मुक्त होगा भारत अपना

  • लड़के पक्ष की खूब की जा रही सराहना 

सिंगरौली ।। सिंगरौली जिले में आयोजित एक शादी के लिए छपा कार्ड इलाके में चर्चा का विषय बन गया है। इस कार्ड की चर्चे में होने की वजह कार्ड के ऊपर की दो लाइन दहेज़ मुक्त विवाह सच होगा सबका सपना दहेज़ मुक्त होकर भारत अपना है जिसे देख लोग अब इस दंपति और उनके परिवार की खूब सराहना कर रहे और इस तरह के कार्यक्रमों से सीखने के बारे में बात करते हैं।

सिंगरौली जिले के धबहिया बरगवां निवासी बिकाश कुशवाहा और जरहा गांव निवासी मनिता कुशवाहा की शादी 2 मई को है। लेकिन इस शादी की चर्चा बहुत ही जोरशोर से हो रही है। इसकी वजह हम आपको बताते है। बिकाश के पिता बुद्धसागर कुशवाहा ने अपने बेटे की शादी में रिश्तेदारों को दिए शादी के कार्ड में साफ लिखा है कि दहेज मुक्त विवाह और आगे लिखा है सच होगा सपना सबका दहेज़ मुक्त होगा भारत अपना, शादी का कार्ड अभी खूब जोरोशोरो से चर्चे में है। सिंगरौली में छपी इस शादी के कार्ड को लेकर लड़के के पक्ष की खूब सराहना की जा रही है।

https://urjanchaltiger.com/general-news/24453/

लड़के के पिता से शादी के कार्ड पर लिखे शब्दों के बारे में बात करते हुए उसने स्पष्ट किया कि वह संत रामपाल महाराज का शिष्य है। उनका साफ कहना है कि समाज मे फैली हुई बुराई को खत्म करना दहेज मुक्त विवाह देहदान रक्तदान और कुरीतियों को समाप्त करना है इसलिए हमने दहेज मुक्त विवाह अपने बेटे का करने का निर्णय लिया है।

इस फैसले के साथ हम समाज को एक संदेश देना चाहते हैं कि अपने बच्चों की शादी दहेज के साथ न करें ताकि बेटी पर परिवार का कोई बोझ न हो और उसके परिवार को कर्ज का बोझ न उठाना पड़े।

Viral Video