शिवराज सिंह चौहान के 5 बड़े ऐलान, कॉलेज में दाखिला लेने पर लड़कियों को मिलेगें 25000 रुपये

8 मई को मदर्स डे पर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने प्रदेश को लेकर किया बड़ा ऐलान, भोपाल में लाडली लक्ष्मी योजना 2.0 के कार्यक्रम में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने घोषणा की कि 12वीं पास कर महाविद्यालय में प्रवेश लेने वाली लाडली लक्ष्मी को दो किश्तों में अलग से 25000 रुपये दिये जायेंगे। एड्मिसन करने पर 12500 और दूसरी किस्त पढ़ाई करने पर दी जाएगी।

CM शिवराज ने कहा कि एक प्राइवेट मेडिकल कॉलेज में डॉक्टर बनने के लिए 7-8 लाख रुपये की फीस ली जाती है। लाडली लक्ष्मी का मेडिकल, IIT-IIM या किसी अन्य संस्थान में दाखिला होने पर उसकी पूरी फीस राज्य सरकार देगी। हर साल 2 मई से 12 मई तक लाडली लक्ष्मी उत्सव मनाया जाएगा।

लाडली ई-संवाद ऐप बनाया गया है ताकि जरूरत पड़ने पर बेटियां सीधे मुझसे संपर्क कर सकें। जिन पंचायतों में लाड़ली का सम्मान होगा, जहां बाल विवाह नहीं होगा, लाडली की स्कूल में शत-प्रतिशत प्रवेश होगी, कोई लाडली कुपोषित नहीं होगी और कोई बालिका अपराध नहीं होगा, ऐसी ग्राम पंचायतों को लाड़ली लक्ष्मी पंचायत घोषित किया जाएगा। 

बता दें कि 2007 से अब तक लाड़ली लक्ष्मी योजना के तहत 42.08 लाख से अधिक बच्चियों  का पंजीकरण किया जा चुका है। कक्षा 6, कक्षा 9वीं, कक्षा 11वीं और 12वीं कक्षा में प्रवेशित 9.05 लाख लड़कियों को 231.06 करोड़ रुपये की छात्रवृत्ति वितरित की गई है।

वही मंदसौर में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने केंद्र और राज्य सरकारों के 270.59 करोड़ रुपये के संयुक्त अनुदान से निर्मित मेडिकल कॉलेज का भूमि पूजन किया और ऐलान किया कि ग्राम पंचायत दलोदा को नगर पंचायत बनाने की और 8 दिसंबर को मंदसौर का गौरव दिवस मनाने की घोषणा की।

वही कहा कि मंदसौर के बाद अब नीमच में भी जल्द होगा मेडिकल कॉलेज का भूमि पूजन। पशुपतिनाथ की नगरी में शिवना नदी के शुद्धिकरण का अभियान चलाया जाएगा। कार्य की योजना बनाकर इसके लिए धन भी उपलब्ध कराया जाएगा।