सिंगरौली

सिंगरौली के भाजपा विधायक पर हाईकोर्ट ने लगाया 1लाख रुपए का जुर्माना,जानिए क्यों ?

मध्यप्रदेश सिंगरौली के भाजपा विधायक रामलल्लू वैश्य पर हाईकोर्ट ने एक लाख रुपए का जुर्माना लगाया है। जुर्माना तथ्य छुपाकर याचिका दायर करने और शपथपूर्वक गलतबयानी कर कोर्ट को भ्रमित करने के प्रयास में लगाया गया है।

हाईकोर्ट के चीफ जस्टिस रवि मलिमठ व जस्टिस पीके कौरव  की अध्यक्षता वाली उच्च न्यायालय की खंडपीठ ने कहा कि ऐसे याचिकाकर्ताओं को कानून के प्रावधानों का दुरुपयोग करने की अनुमति नहीं दी जानी चाहिए। अदालत ने याचिका खारिज करते हुए याचिकाकर्ता पर एक लाख रुपये का जुर्माना लगाया।

याचिका सिंगरौली विधानसभा क्षेत्र के विधायक और मेढौली गांव निवासी राम लालू बैश की ओर से दायर की गई थी।  याचिकाकर्ता की ओर से पेश अधिवक्ता के के सिंह ने अदालत से कहा कि चूंकि कोल इंडिया और नॉर्दर्न कोल फील्ड्स लिमिटेड उनकी जमीन पर अवैध रूप से कोयला उत्खनन कर रहे, इसलिए इसे रोका जाना चाहिए।

सुनवाई के दौरान शासकीय अधिवक्ता अंकित अग्रवाल ने अदालत को बताया कि इस संबंध में याचिकाकर्ता और अनावेदकों के बीच पुराना विवाद है।  इस संबंध में तीन रिट याचिकाएं, एक विविध अपील और एक दीवानी पुनरीक्षण उच्च न्यायालय में लंबित हैं। याचिकाकर्ता ने हलफनामे में उल्लेख किया कि इस संबंध में अदालत में न तो कोई मामला लंबित है और न ही दायर किया गया है।

अदालत के पूछे जाने पर याचिकाकर्ता के वकील के के सिंह ने कहा कि वह इस जानकारी को अदालत के संज्ञान में नहीं ला सके। इसके लिए उन्होंने माफी मांगी। इस संबंध में अदालत ने कहा, यह ऐसी स्थिति नहीं है जब माफी मांगी जा सकती है। जानबूझकर तथ्यों को छिपाया गया है। अदालत ने याचिका को कानून का दुरुपयोग बताते हुए एक लाख रुपये के जुर्माने के साथ खारिज कर दिया। कोर्ट ने निर्देश दिया कि जुर्माना एक सप्ताह के भीतर कोरोना आपदा अधिवक्ता कल्याण कोष के खाते में जमा करा दिया जाए।

पूरा ख़बर पढने के लिए क्लिक करें

न्यूज डेस्क

उर्जांचल टाईगर (राष्ट्रीय हिन्दी मासिक पत्रिका) के दैनिक न्यूज़ पोर्टल पर समाचार और विज्ञापन देने के लिए संपर्क करें। व्हाट्स ऐप नंबर -7805875468 मेल आईडी - editor@urjanchaltiger.in
Back to top button
viral video