सिंगरौली

सिंगरौली न्यूज : चिकित्सालयो मे डॉक्टर अपने ड्यूटी पर रहे उपस्थित-कलेक्टर

बैढ़न कार्यालय।।कलेक्टर राजीव रंजन मीना के अध्यक्षता में स्वास्थ्य विभाग एवं महिला बाल विकास विभाग की संयुक्त बैठक कलेक्ट्रेट सभागार में आयोजित हुई। बैठक में कलेक्टर ने स्वास्थ्य विभाग की समीक्षा करते हुये आकांक्षी जिलें के लिए निर्धारित विंदुओ में की गई प्रगति की जानकारी लेने के पश्चात निर्देश दिये कि अनमोल पोर्टल पर सभी विंदुओ की शत प्रतिशत जानकारी अपलोड करे।

उन्होने कहा कि निर्धारित विंदुओ के क्रियान्वन की जानकारी से अगली बैठक में अवगत कराया जाना शत प्रतिशत सुनिश्चित करे। उन्होने गर्भवती महिलाओ के स्वास्थ्य हेतु निर्धारित किये गये चारो चेकअप की जानकारी लेने के पश्चात निर्देश दिये कि अपने अपने सेक्टरो में लगातार गर्भवती महिलाओ को चिन्हित कर एनेमिया की शत प्रतिशत जॉच कराना सुनिश्चित करे।

कलेक्टर ने संस्थागत प्रसव के प्रगति की जानकारी ब्लाकबार लेने के पश्चात निर्देश दिये कि सभी ब्लाको में निर्धारित प्रसव केन्द्रो में शत प्रतिशत संस्थगत प्रसव कराये जाये। उन्होने कहा कि एनएम या आशा कार्यकर्ता के द्वारा लक्ष्य के अनुसार कार्य नही किया गया है उन्हे कारण बताओ नोटिस जारी करे। उन्होने निर्देश दिया कि मातृत्व एवं शिशु मृत्यु दर में कमी लाये किसी भी प्रकार की लापरवाही बर्दास्त नही की जायेगी।

उन्होने नवीन प्रसव केन्द्रो के प्रगति की समीक्षा करते हुये निर्देश दिये कि सभी बीएमओ अपने अपने क्षेत्रो में नवीन प्रसव केन्द्रो को सुचारू रूप से संचालित कराये।उन्होने निर्देश दिया कि प्रसव पूर्व गर्भवती महिलाओ को दिये जाने वाले लाभ समय पर उपलंब्ध कराये। उन्होने एनआरसी में भर्ती किये गये बच्चो के स्वास्थ्य की जानकारी लेने के पश्चात निर्देश दिये कि लक्ष्य के अनुसार एनआरसी में बच्चो को भर्ती किया जाये।

कलेक्टर ने सिविर सर्जन को इस आशय के निर्देश दिये कि जिला चिकित्सालय सह ट्रामा सेंटर मे ओपीडी सुचारू रूप से संचालित कराये।तथा सभी चिकित्सक निर्धारित समय पर अपनी ड्यूटी में उपस्थित रहे। उन्होने सभी बीएमओ को निर्देश दिये कि अपने अपने विकास खण्डो में ओपीडी का संचालन समय से कराये।

महिला एवं बाल विकास विभाग की समीक्षा करते हुये प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना, लडली लक्ष्मी योजना जिले मे कुपोषण की स्थिति सहित कम वनज वाले बच्चो के सर्वेक्षण की जानकारी लेने के पश्चात कम प्रगति देने वाले देवसर ब्लाक के रजनिया के सुपरवाईजर नुसरत जहां का एक वेतन वृद्धि रोकने एवं सुपरवाईज विवेकी चौरसिया जो बिना अनुमति के बैठक में अनुपस्थित थी तथा तीन दिवस से मुख्यालय से बाहर होने के फल स्वरूप तीन दिवस अवैतनिक करने का निर्देश दिया गया। तथा देवसर ब्लाक की एक सुपरवाईज के द्वारा कम प्रगति देने के फल स्वरूप उनका एक वेतन वृद्धि रोकने का निर्देश दिया गया।

कलेक्टर ने संबंधित विभाग के परियोजना अधिकारियो को निर्देश दिये कि निर्धारित विंदुओ में शत प्रतिशत लक्ष्य प्राप्त करे। लक्ष्य मे कमी मिलने पर आप सब की जिम्मेदारी मानी जायेगी। उन्होने कम वजन वाले चिन्हित बच्चो का वजन बढ़ाने  के लिए निरंतर उनके स्वास्थ्य की निगरानी करने का निर्देश दिया।

बैठक के दौरान मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ एन.के जैन, सिविल सर्जन डॉ. ओ.पी झा, डॉ. एपी पटेल, डॉ. कल्पना रवि, डॉ. राहुल सिंह, डॉ. तोमर, डीपीएम सुधाषु मिश्रा, जिला मलेरिया अधिकारी नागेन्द कुमार सिंह, महिला बाल विकास अधिकारी राजेश राम गुप्ता,परियोजना अधिकारी शहरी शैलेन्द साकेत, परियोजना अधिकारी ग्रामीण अरविंद सिंह चंदेल, देवसर परियोजना अधिकारी प्रवेश मिश्रा सहित परियोजना अधिकारी चितरंगी एवं सुपरवाईजर स्वस्थ्य विभाग के अधिकारी उपस्थित रहे।

पूरा ख़बर पढने के लिए क्लिक करें

राकेश कुमार विश्वकर्मा

सिंगरौली,मध्यप्रदेश से हैं। यंग हैं, सुनते सबकी हैं, लेकिन लिखते हैं सिर्फ सच। समाचार और विज्ञापन के लिए संपर्क कीजिए। 7805875468
Back to top button
viral video