सिंगरौली में चला ‘मामा’ का बुलडोजर,1.5 करोड़ कीमत की शासकीय भूमि हुआ अतिक्रमण मुक्त

सिंगरौली।। प्रदेश सरकार द्वारा भू माफियाओं के विरुद्ध जारी अभियान के तहत जिला प्रशासन सिंगरौली ने आज शुक्रवार को मोरवा क्षेत्र के ग्राम पंजरेह में भू-माफिया के विरुद्ध बड़ी कार्यवाही कर करोड़ों रुपए की शासकीय जमीन को अतिक्रमण मुक्त कराया है।

कलेक्टर सिंगरौली राजीव रंजन मीना एवं पुलिस अधीक्षक वीरेंद्र सिंह के निर्देश पर भू माफियाओं के विरुद्ध नियमानुसार प्रकरण संस्थित कर नियमानुसार कार्यवाही उपरांत बेदखली का आदेश पारित कर बेदखली नोटिस जारी किया गया था।

नियत समय में भूमि खाली नहीं किए जाने पर बार बार समय की मांग किए जाने पर अंतिम नोटिस चस्पानगी पश्चात नियत दिनांक और समय को आज जिला प्रशासन द्वारा यह कार्यवाही की गई है।

SDM ऋषि पवार के नेतृत्व में 1.5करोड़ की शासकीय भूमि हुआ अतिक्रमण मुक्त

एसडीएम ऋषि पवार के नेतृत्व में तहसीलदार दिवाकर सिंह, मोरवा निरीक्षक मनीष त्रिपाठी समेत भारी संख्या में पुलिस बल, नगर निगम व राजस्व अमला पंजरेह में शासकीय भूमि पर किए गए अतिक्रमण को हटाने के लिए सुबह ही पहुंच गया था। जिनके द्वारा 10 घंटों के अथक प्रयास के बाद शासकीय जमीन पर किए जा रहे अतिक्रमण को खाली कराया गया।

बताया जाता है कि अतिक्रमणकारी द्वारा करीब 16 डिसमिल की जमीन पर अतिक्रमण कर पक्का छत मकान हाईवे के किनारे बनाया गया था। उक्त भूमि व समस्त संपत्ति की कुल कीमत लगभग डेढ़ करोड़ रुपये आकलित है।

एसडीएम ऋषि पवार ने बताया कि इस मामले में भी अतिक्रमणकारी पर शासकीय भूमि पर अतिक्रमण को लेकर धारा 447 के तहत एफआईआर दर्ज कर विधि अनुसार दंडात्मक कार्यवाही भी की जाएगी। इस प्रकार ग्राम पंजरेह में कुल 0.064 हेक्टेयर अतीक्रमित भूमि जिसका बाजार मूल्य लगभग डेढ़ करोड़ है को मुक्त कराया गया।