बहू को गला काटकर हत्या करने वाला ससुर गिरफ्तार।

सिंगरौली के बरगवां पुलिस की ताबड़तोड़ कार्यवाही को देख आरोपीओं में मचा हड़कंप। बरगवां पुलिस ने जघन्य हत्या व कम्पनी से समान चोरी एवं 08 वर्षों से फ़रार चल रहे आरोपीओं को गिरफ़्तार कर जेल भेज दिया।

बरगवां थाना क्षेत्र के बरहटी गांव में बीते दिन ससुर ने अपनी सगी बहू को धारदार हथियार से गला काटकर हत्या कर फ़रार हो गया था। जिसे आज अपराध क्रमांक 459/22 के धारा 302 भादवि के समक्ष पुलिस ने गिरफ़्तार कर देवसर न्यायालय में पेश किया गया। आरोपी को देवसर न्यायालय के न्यायाधीश तनवी महेश्वरी ठाकुर ने जेल भेज दिया गया।

सरर्ई में स्थित प्राइवेट जम्को लिमिटेड कंपनी द्वारा राजासरर्ई में कोल्ड स्टोरेज बनाने के लिए काम चल रहा है। जहाँ पर समान रखने के लिए स्टोर रुम बनाया गया है। स्टोर के लिए बने एक कमरे में कम्पनी का मटेरियल कोर असेम्बली 65 (आयल कूलर) की अज्ञात चोरों द्वारा कमरे के बाउण्ड्री में होल कर चोरी होने की फरियादी जगदीश तिवारी की शिकायत पर बरगवां पुलिस ने अपराध क्रमांक 458/22 के धारा 457,380 भादवि के तहत मामला को संज्ञान में लेते हुए,(01) गनियारी निवासी राजेश सोनी पिता अशर्फी लाल सोनी 33 वर्ष (02) जरौधी निवासी रामनाम उर्फ़ जायसवाल पिता रामप्रसाद जायसवाल 48 वर्ष (03) बेतरिया निवासी सूरज लाल यादव पिता देवनाथ यादव 29 वर्ष इन तीनों आरोपीओं को गिरफ़्तार कर असेम्बली आयल कूलर चोरी के 3 लाख का समान बरामद कीया है। इससे जुड़े आरोपीओं के 3-4 साथी फरार हुए हैं। उक्त चोरी के मामले में कम्पनी के सिक्योरिटी गार्ड्स पर भी संदेहास्पद प्रतीत हो रही है जिसकी जाँच में पुलिस जूटी हुई है।

देवसर न्यायालय के 04 स्थाई वारंट से 08 वर्षों से फ़रार चल रहे आरोपी को बरगवां पुलिस ने पंजाब के पटियाला से गिरफ़्तार कर न्यायालय में पेश किया गया और न्यायालय द्वारा स्थाई वारंटी आरोपी बरहवाटोला निवासी शुक्ला उर्फ छोटकवा बसोर पिता सिद्वू बसोर 52 वर्ष को जेल भेज दिया गया।

इस कार्यवाही में बरगवां थाना प्रभारी आर.पी.सिंह के नेतृत्व में उप-निरीक्षक रामजी त्रिपाठी, सहायक उप-निरीक्षक अनिल मिश्रा, रमेश मित्रा, साहबलाल सिंह, संजीत सिंह, प्रधान आरक्षक फूल सिंह, नरेंद्र यादव, रावेन्द्र सिंह, रमेश रावत, राजकुमार विश्वकर्मा एवं आरक्षक पंकज चतुर्वेदी, प्रतीक कुमार की विशेष भूमिका रही।