बड़ी लापरवाही : सीधी जिले के शासकीय स्कूल में दूषित खाना खाने से 26 बच्चे हुए बीमार।

सीधी/सिहावल।सीधी जिले के शासकीय स्कूल में दूषित खाना खाने से 26 बच्चे बीमार हो गए। सभी बीमार बच्चों को आनन-फानन में जल्द से जल्द जिला चिकित्सालय सीधी में भर्ती करवाया गया जहां उनका इलाज किया जा रहा है।

जानकारी के अनुसार सीधी जिले में उस समय पर हड़कंप मच गया जब जनपद शिक्षा केंद्र सिहावल के प्राथमिक शाला घमसान उत्तर टोला पतुलखी में मध्यान भोजन खाने के बाद बच्चे फूड प्वाइजनिंग का शिकार हो गए।  जिसकी वजह से उनकी स्वास्थ्य अचानक खराब होने लगी। किसी के सिर में दर्द तो किसी के पेट में दर्द की शिकायत होने लगी। शाम होते-होते इतनी गंभीर हो गई जिसकी वजह से परिजनों एवं शिक्षकों के द्वारा 108 एंबुलेंस पटपरा तथा अन्य छोटे एंबुलेंस को पॉइंट दिया गया।  जिसके पश्चात तीन से चार एंबुलेंस के माध्यम से सभी बीमार बच्चों को आनन-फानन में जल्द से जल्द जिला चिकित्सालय सीधी में भर्ती करवाया गया जहां उनका इलाज किया जा रहा है।

घटना की जानकारी मिलते ही हरकत में आया प्रशासन

जैसे ही घटना की जानकारी शिक्षा विभाग व प्रशासनिक अधिकारियों को लगी सभी हरकत में आ गए तथा तुरंत जिला चिकित्सालय सीधी पहुंचे सीधी कलेक्टर के द्वारा डॉक्टरों को निर्देशित किया गया जहां डॉक्टरों की टीम के द्वारा सभी बच्चों का मेडिकल परीक्षण किया गया तथा सभी बीमार बच्चों का इलाज समुचित रूप से किया जा रहा है। 

सिंगरौली विधायक पुत्र की गुंडागर्दी, वन रक्षक के साथ मारपीट व बन्दुक से किया फायरिंग।

कुल 32 बच्चों ने खाया था खाना

शासकीय प्राथमिक शाला घमसान उत्तर टोला पतुलखी के हेड मास्टर विजयपाल मिश्रा के द्वारा मीडिया को यह जानकारी दी गई है की कुल 51 बच्चे शाला में उपस्थित थे जिसमें से 32 बच्चों ने खाना खाया था तथा 26 बच्चों की तबीयत खराब हो गई वही मध्यान भोजन देने का कार्य देवी महिला स्व सहायता समूह के द्वारा स्कूल में बच्चों को किया जाता है।

कुल 26 बच्चे हुए बीमार

सीधी कलेक्टर ने मीडिया को जानकारी देते हुए बताया है की खाना बनाने के पश्चात छिपकली उसमें गिर गई थी जिसकी वजह से ज्यादा गंभीर समस्या नहीं हुई। वहीं इस घटना में कुल 26 बच्चे बीमार हुए हैं जिन का इलाज सतत रूप से डॉक्टरों की निगरानी में किया जा रहा है तथा सभी बच्चे सुरक्षित हैं।

जिम्मेदारी की जाएगी तय

मीडिया को जानकारी देते हुए सीधी कलेक्टर ने कहा है मध्यान भोजन योजना के संचालन के लिए जिम्मेदारी तय की जाएगी साथ ही इस प्रकार की घटना दोबारा ना हो इसके लिए भी कड़े कदम उठाए जाएंगे।

दोषियों  को बख्शा नहीं जाएगा 

दूषित मध्यान भोजन खाने से 26 बच्चे बीमार हुए हैं जिन का इलाज जिला चिकित्सालय सीधी में जारी है सभी बच्चे खतरे से बाहर बताए गए दोषियों के खिलाफ कार्यवाही होगी तथा ऐसी गलती दोबारा ना हो इसके लिए जिम्मेदारी तय की जाएगी।

मुजीबुर्रहमान खान,कलेक्टर,सीधी मध्यप्रदेश 


ब्रेकिंग न्यूज़ हिंदी में सबसे पहले पढ़ेंने के लिए उर्जांचल टाईगर हिंदी पर विजिट कीजिए। आज की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट, पढ़ने के लिए सबसे विश्वसनीय Google News हिंदी को सबस्क्राइब कीजिए। 

Viral Video