सीधी में फिर से बनेंगी बीजेपी की नगर पालिक अध्यक्ष।

पुष्पेंद्र विश्वकर्मा /सीधी नगर पालिक निगम चुनाव के परिणाम आने के बाद अब कांग्रेस नेताओं में अध्यक्ष पद की दावेदारी को लेकर सियासत लूट पकड़ती नजर आ रही है। ऐसे में आज भाजपा नेता भारतीय राजनैतिक में एक अलग ही पहचान रखने वाले अजीत पाल सिंह चौहान ने एक्सक्लूसिव बातचीत के दौरान उन्होंने दावेदारी के साथ कहा कि देखा जाए तो हम उनसे पीछे नहीं है पिछले पांच वर्षों के आंकड़े से देखा जाए तो इस बार बीजेपी से कांग्रेस की 4 सीटें कम है। इसके पूर्व में कम सीट होने से भाजपा के अध्यक्ष बने थे।

उस समय कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष आनंद सिंह के नेतृत्व में कांग्रेस के पास 18 पार्षद हुआ करते थे। लेकिन वर्तमान में कांग्रेस के अध्यक्ष ज्ञान सिंह के नेतृत्व में 14 पार्षद है। भाजपा नेता अजीत पाल ने दावा करते हुए  कहा कि हमारे मध्य प्रदेश में भाजपा आगे हैं भले हम विन्ध्य में कहीं पीछे हो सकते हैं।

लेकिन इसके पूर्व में मझौली में देखा जाए तो कांग्रेस के अध्यक्ष थे वहां भी हम जीते, रामपुर नैकिन में भी जीते हैं। नगर पालिक निगम सीधी में भाजपा के नेतृत्व में ही अध्यक्ष बनेगी, जब हम पूर्व में कम सीटों से अध्यक्ष बन सकते हैं तो इस बार हमारे पास निर्दलीय पार्षद और नगर पालिक निगम के अध्यक्ष भी हमारे साथ में हैं। बीजेपी नेता अजीत पाल सिंह चौहान ने दावेदारी के साथ कहा की इस बार भी सीधी नगर पालिक निगम के अध्यक्ष भाजपा के ही बनेगी।

आपको बताते चलें कि अजीत पाल सिंह चौहान के.के. सिंह चौहान के सुपुत्र हैं जो कभी कांग्रेस पार्टी के अध्यक्ष हुआ करते थे। जो भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस के दिग्गज नेता के.के सिंह चौहान महज 21 वर्ष की उम्र में सीधी नगर पालिक निगम से निर्विरोध अध्यक्ष बनकर कांग्रेस पार्टी शहित आम जनमानस में अपनी एक अलग ही लोकप्रियता सजोए थे।

सिंगरौली विधायक पुत्र की गुंडागर्दी, वन रक्षक के साथ मारपीट व बन्दुक से किया फायरिंग।

बीजेपी नेता अजीत पाल सिंह पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ सिंह एवं पूर्व अध्यक्ष अरुण यादव के काफी करीबी माने जाते थे। स्व. श्रीनिवास तिवारी, स्व. अर्जुन सिंह, स्व. इंद्रजीत कुमार भी करीबी हुआ करते थे, तब भी कांग्रेस पार्टी में अजीत पाल सिंह अपनी एक अलग ही पहचान बनाए हुए थे ।

जो वर्तमान में भाजपा पार्टी के कार्यकर्ता एवं नेता बन चुके हैं जो प्रदेश स्तर के साथ-साथ मधुबन कोठी सीधी में एक अलग ही पहचान है। अगर उदारता की बात की जाए तो सरल व सहज स्वभाव के धनी अजीत पाल सिंह चौहान के यहां जिस किसी ने भी जो समस्या लेकर आया कभी निराश नहीं लौटा अपने जनता जनार्दन को एक परिवार की तरह माना है।


ब्रेकिंग न्यूज़ हिंदी में सबसे पहले पढ़ेंने के लिए उर्जांचल टाईगर हिंदी पर विजिट कीजिए। आज की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट, पढ़ने के लिए सबसे विश्वसनीय Google News हिंदी को सबस्क्राइब कीजिए। 

Viral Video