Chanakya Niti : इन 3 आदतों को अपने जीवन मे अपनाये, जीवन मे कभी नहीं मिलेगी असफलता

Chanakya Niti : आचार्य चाणक्य ने मनुष्य जीवन को आसान बनाने के लिए अपने नीति शास्त्र के अनुसार कई उपाय बताए हैं। जिससे मनुष्य की हर तरह की परेशानीयां चुटकीयों में ही हल हो जाएँगी ने कई उपाय बताते हुए कहा है कि परेशानियों से छुटकारा पाने का सबसे आसान तरीका है की समय के अनुसार सही फैसला लेना जरुरी है।

आचार्य के अनुसार कोई व्याक्ति कभी-कभी पूरी मेहनत करता है लेकिन उसके बाद भी सफलता उससे कोसो दूर ही रहती है। आचार्य ने मेहनत को सफलता पाने की महत्त्वपूर्ण सरल साधन बताते हुए इसके उपयोगिता पर सवाल भी उठाए हैं। आचार्य चाणक्यह कहते हैं कि हमेशा और लगातार काम करते रहना सफलता पाने का जरिया तो अवश्य है लेकिन यह मेहनत तभी सफल होती है जब की आपके अंदर पशु-पक्षियों के खास गुण होता है।

Chanakya Niti : इन 3 आदतों को अपने जीवन मे अपनाये, जीवन मे कभी नहीं मिलेगी असफलता

गधा (Donkey)

आचार्य चाणक्य ने मेहनत करने वाले लोगों की तुलना गधा से किया है जिसमे आचार्य ने बताया है की एक गधा पूरी जिंदगी बिना सोचे समझे कड़ी मेनहत करता रहता है, लेकिन उसके बाद भी न तो उसे इज्जत दी जाती है और ना ही उसकी प्रशन्सा की जाती है। जिसकी वजह से ही गधा गुलामी का प्रतीक बन हुआ है।

जिसकी पूरी जिंदगी गुलाम में व्यतीत होती है और गुलामी में ही यह मर जाता है। गधे की इस कहानी से मनुष्यि के जीवन को यह सिखाता है कि बिना किसी लक्ष्य के ना तो आप अपने अंदर की प्रतिभा को निखार सकते हैं और न ही आप आगे बढ़ सकते हैं।

Chanakya Niti : इन 3 आदतों को अपने जीवन मे अपनाये, जीवन मे कभी नहीं मिलेगी असफलता

बाज (Eagle)

आचार्य चाणक्य का कहना हैं कि जगंल में जानवर कई तरह के होते है जो की अपना पेट पलने के लिए कड़ी मेहनत करते है लेकिन उनमे से कुछ ही जनवरों को सफलता मिलती है। जंगल में कई ऐसे भी जानवर होते हैं जो भूख से ही मर जाते हैं नहीं तो दूसरे जानवरों के शिकार बन जाते हैं। आपको बता दें की इन्ही के बीच में एक बाज भी होता है यह एक ऐसा पक्षी होता है जो कभी विफल नहीं होता है।

बाज अपने लक्ष्य को साधने के लिए घंटों तक कड़ी मेहनत करता रहता है और अंत में जब वो अपने शिकार की ओर बढ़ता है तो उसे हांसिल करके ही दम लेता है। मनुष्य को बाज से सीखना चाहिए कि कभी भी जल्दबाजी में फैसले नहीं लेना चाहिए। अपना लक्ष्य को निर्धारित करने में जो भी समय लगे आप लगने दीजिये जब अपने लक्ष्य को निर्धारित कर लें उसके बाद ही आगे बढ़ना चाहिए।

Chanakya Niti : इन 3 आदतों को अपने जीवन मे अपनाये, जीवन मे कभी नहीं मिलेगी असफलता

शेर (Lion)

आचार्य चाणक्य कहते हैं कि मनुष्या को जंगल के राजा शेर से सबसे ज्याकदा सीख लेने की जरुरत है। क्योंहकि जगंल का राजा होने के बाद भी वो अपने लक्ष्य को लेकर बिल्कुल आश्वत होता है तभी वह शिकार करता है शेर के अन्दर यह खासबात होती हैं कि उसका लक्ष्य कितना ही छोटा क्यों ना हो, शेर अपना शिकार उतनी ही तंमयता के साथ करता है, जितना कि किसी बड़े जानवर का शिकार करता है।

Viral Video