Chanakya Niti: चाणक्य की सिर्फ इन बातो को रखे ध्यान, जीवन में कभी नहीं मिलेगी असफलता

Chanakya Niti: आचार्य चाणक्य को भारत ही नहीं बल्कि दुनिया का पहला अर्थशास्त्री, राजनीतिक और कूटनीतिक माना जाता है। आचार्य चाणक्य की नीतियां और उनके विचार आज भी समाज, परिवार और व्यक्ति के लिए आइने का काम करता है और लोगों को सही तरीके से जीने की सिखा देता है। बड़े पैमाने पर आज भी लोगों का मानना है कि जो व्यक्ति आचार्य चाणक्य की नीतियों और उनकी बातों का पालन करता हैं उनके जीवन में कभी मुसीबत नहीं आती है और सफलता उनकी कदमें चूमती है।

आचार्य चाणक्‍य ने समाज, सफलता, पैसे, व्यापार, दांपत्‍य जीवन, से जुड़े तमाम चीजों पर अपनी राय दी है। आचार्य चाणक्य की नहीं बातों को चाणक्य नीति के नाम से जाना जाता है। चाणक्य की बातें मुसीबत की घड़ी में हमेशा लोगों सही सलाह देती हैं।

आचार्य चाणक्य ने अपनी नीति में सफलता को लेकर भी कई बातें बताई हैं। अगर उनकी नीतियों का अनुसरण किया जाए तो मनुष्य की सफलता को कोई नहीं रोक सकता। व्यक्ति हर सपने को पूरे हो सकते हैं। कुशल नीतियों के बल पर एक साधारण से बालक चंद्रगुप्त को छोटी सी उम्र में ही सम्राट बना दिया।

चाणक्य ने अपने इन विचारों और समझ को नीति शास्त्र में पिरोया है। इसमें जीवन को आसान और सफल बनाने के लिए कई उपाय बताए गए हैं। इनका अनुसरण करके कोई भी व्‍यक्ति अपने लक्ष्‍य को प्राप्‍त कर सकता है।

एक जगह आचार्य चाणक्य कहते हैं कि ‘जब तक तुम दौड़ने का साहस नहीं जुटा पाओगे, तुम्हारे लिए प्रतिस्पर्धा में जीतना हमेशा असंभव बना रहेगा।’ आचार्य चाणक्य के इस कथन के मुताबिक किसी भी काम को करने में कोई न कोई मुसीबत जरूर आती है। यानी आप सफलता पाना चाहते हैं तो ऐसे में आपको हर तरह की मुश्किलों का सामना करने के लिए तैयार रहना चाहिए। अगर आप हार मान लेते हैं तो आप अपने लक्ष्य को कभी भी हासिल नहीं कर पाएंगे। इसलिए जिस व्यक्ति को अपने सपने यानी लक्ष्य को पूरा करना हैं उसे साहस दिखाना ही होगा।