डेवा नाथ मंदिर में सोमवार को प्राकृतिक सौंदर्य से उमड़ा श्रद्धालुओं का हुजूम

सिंगरौली के देवसर में प्राकृतिक सौंदर्य के बीचो-बीच भगवान भोलेनाथ का मंदिर स्थित है जिन्हें लोग डेवानाथ के नाम से जानते हैं। यह डेवा नाथ मंदिर देवसर से लगभग 15 किलोमीटर की दूरी पर स्थापित है। इन दिनों श्रावण मास में मंदिर श्रद्धालुओं के लिए आकर्षण का केंद्र बना हुआ है। दूसरे सोमवार को डेवा नाथ मंदिर में श्रद्धालुओं का मेला हुआ था।

वहीं दूर-दूर से बाबा डेवा नाथ के दर्शन करने के लिए श्रद्धालु पहुंच रहे हैं। भगवान भोलेनाथ का यह मंदिर पहाड़ों के बीच बसा हुआ है। जहां श्रावण मास में यहां कि दिव्य सौंदर्यता देखने लायक होती है। वहीं क्षेत्रवासियों के आस्था का प्रतीक भगवान भोलेनाथ की नगरी पहुंचने के लिए दुर्गम रास्ते से होकर गुजरना पड़ता है। लेकिन डेवा नाथ प्रतापी भोलेनाथ के दरबार में श्रद्धालु कठिन रास्तों को भी तय करते हुए भगवान भोलेनाथ के दरबार में पहुंचकर उनका आशीर्वाद लेते हैं और मनचाहा वर प्राप्त करते हैं।

यही कारण है कि भगवान भोलेनाथ की नगरी डेवा जहां श्रद्धालु दुर्गम रास्ता होने के बावजूद भी उनकी आस्था उन्हें भगवान भोलेनाथ के दरबार तक पहुंचा ही देती है। वहीं श्रद्धालुओं ने जनप्रतिनिधियों सहित स्थानीय प्रशासन एवं जिला प्रशासन का ध्यान आकृष्ट कराते हुए हजारों श्रद्धालुओं की आस्था का केंद्र डेवानाथ मंदिर का दुर्गम रास्ता सुगम करने एवं मंदिर प्रांगण में चारो ओर सुमनोहर बैठकी बनाने सहित बिजली की व्यवस्था कराए जाने का विशेष आग्रह किया है।

Viral Video