Gama Pehlwan : गामा पहलवान कौन है,1200 किलो का पत्थर उठाने वाले गामा का डाइट क्या था।

Gama Pehlwan :  गामा पहलवान इन दिनों चर्चा का विषय बना हुआ है, दरअसल,गामा पहलवान के 144वीं जयंती पर गूगल ने डूडल तैयार किया। जिसमें गामा पहलवान को गदा के साथ दिखाया गया है। 22 मई 1878 को उनका जन्म हुआ था। गामा पहलवान का असली नाम गुलाम मोहम्मद बख्श बट (Ghulam Mohammad Baksh Butt) था। उन्हें “रुस्तम-ए-हिंद” के नाम से जाना जाता है। 

Gama Pehlwan Birthday : Birth and career of Gama Pehlwan

https://www.instagram.com/p/CKo1Qdzn_UC/?utm_source=ig_web_copy_link

गामा पहलवान ने पूरी  दुनिया में भारत का नाम रोशन किया

22 मई, 1878 को अमृतसर के एक गांव में जन्मे गामा पहलवान को ग्रेट गामा के नाम से भी जाना जाता है। कहा जाता है कि गामा ने 10 साल की उम्र में कुश्ती शुरू कर दी थी। गामा पहलवान ने सबसे पहले कुश्ती के  दांव-पेच पंजाब के मशहूर पहलवान माधो सिंह से सीखी। इसके बाद मध्य प्रदेश के दतियार के महाराजा भवानी सिंह ने कुश्ती खेलने का अवसर दिए। 1947 तक गामा पहलवान ने अपने हुनर ​​से भारत का नाम पूरी दुनिया में रोशन कर दिया था। 

Gama Pehlwan Birthday :

एक दिन में 5000 बैठक और 1000 से ज्यादा पुशअप लगाते थे।

गामा पहलवान को ‘रुस्तम-ए-हिंद’ भी कहा जाता है। वह एक दिन में 5000 बैठक और 1000 से ज्यादा पुशअप लगा लेते थे। रिपोर्ट्स के मुताबिक उन्होंने पत्थर के डम्बल से अपनी बॉडी बनाई थी। कहा जाता है कि गामा पहलवान ने एक बार 1200 किलो के पत्थर को उठाकर कुछ दूर चलने का कारनामा कर दिखाया था। 

Gama Pehlwan Birthday :

गामा पहलवान टाइगर की उपाधि से भी नवाजा गया।

  1. 1910 में वर्ल्ड हैवीवेट चैम्पियनशिप का इंडियन वर्जन
  2. 1927 में वर्ल्ड रेसलिंग चैम्पियनशिप 
  3. वर्ल्ड रेसलिंग चैम्पियनशिप के बाद उन्हें टाइगर की उपाधि से भी नवाजा गया।
  4. प्रिंस ऑफ वेल्स ने अपनी भारत यात्रा के दौरान महान पहलवान को सम्मानित करने के लिए एक चांदी की गदा भेंट की। 

गामा की विरासत आज के समय के रेसलर को प्रेरित करती रही है। आपको जानकार हैरत होगा कि  मार्शल आर्टिस्ट ब्रूस ली भी गामा पहलवान के बड़े फैन रहे हैं।

Gama Pehlwan Birthday: Diet of Gama Pehlwan

https://www.instagram.com/p/B32PJsknsL-/?utm_source=ig_web_copy_link

गामा पहलवान रोज 10 लीटर दूध,6 देशी मुर्गियां और 200 ग्राम बादाम का ड्रिंक सेवन करते थे।

गामा पहलवान गांव के रहने वाले थे और उनका खाना भी देशी ही था। रिपोर्ट में दावा किया गया है कि उनकी डाइट काफी हैवी थी। वह रोज 10 लीटर दूध पीते था। साथ ही  6 देशी मुर्गियां भी गामा के डाइट का हिस्सा था। इसके साथ ही 200 ग्राम बादाम डालकर एक ड्रिंक बनाते थे जिसे वह पिया करते थे।