Big Action Of Singrauli Police : नशे के दो कारोबारियों को गढ़वा पुलिस ने बड़ी मात्रा में WINGS ONEREX सिरफ कफ के साथ की गिरफ्तार!

Singrauli Police Action : सिंगरौली पुलिस अधीक्षक वीरेन्द्र कुमार सिंह व्दारा अवैध मादक पदार्थ गांजा व प्रतिबंधित नशीली कफ सिरफ के विरुद्ध अभियान चलाये जा रहे हैं। जिस अभियान के अन्तर्गत अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक शिवकुमार वर्मा के निर्देशन में चितरंगी प्रभारी एसडीओपी राजीव पाठक की निगरानी में गढ़वा थाना प्रभारी अनिल उपाध्याय व नौडिहवा चौकी प्रभारी पुष्पेन्द्र धुर्वे के द्वारा पुलिस बल के साथ प्रतिबंधित नशीली कफ सिरफ का परिवहन व बिक्री करने वाले नशे के दो कारोबारियों को गढ़वा पुलिस ने बड़ी मात्रा में WINGS ONEREX सिरफ कफ के साथ गिरफ्तार कर उनके विरुद्ध कार्यवाही की है।

आरोपियों को पुलिस ने कैसे किया गिरफ्तार?

गढ़वा पुलिस को बीती रविवार की रात 11:10 बजे मुखबिर से सूचना प्राप्त हुई कि पराई गांव का प्रकाश द्विवेदी अपने सफेद रंग के अल्टो 800 कार नंबर UP63 26970 से अपने साथी बड़कुड़ गांव के प्रिंस दुबे के साथ दिन में उत्तर प्रदेश घोरावल से अवैध प्रतिबंधित नशीली कफ शीरप कोरेक्स लेने गया हुआ था। जो किसी भी वक्त घोरावल से अवैध नशीली कफ सिरफ कोरेक्स लेकर झरकटा नौडिहवा के रास्ते होते हुए अपने गांव पराई तरफ लेकर जाने वाला है।

पुलिस ने मुखबिर से प्राप्त सूचना से वरिष्ठ अधिकारियों को अवगत कराया और उसके पुनः मुखबिर द्वारा सूचना प्राप्त हुई की दोनों  संदेही घोरावल से कुछ समय में निकलने वाले है, जैसे वो वहां से निकलने लगे तो पुनः सूचित करने हेतु पुलिस ने मुखबिर से कहा। मुखबिर की सूचना पर तस्दीकी एवं कार्यवाही हेतु पुलिस ने रवाना होकर घोरावल से चितंरगी जाने वाले रास्ते में तमई टावर के पास पहुँचकर रास्ते की नाकाबंदी की जाकर घोरावल तरफ से आने वाले वाहनो पर नजर रखी जाने लगी। जिसके कुछ समय पश्चात मुखबिर द्वारा दूरभाष के माध्यम से बताया गया कि दोनों वक्ति को आप लोगों के नाकाबंदी की सूचना मिल गई, इस लिए दोनों व्यक्ति खैड़ार गांव के पास रास्ता बदल दिए हैं।

उक्त सूचना पर त्वरित कार्यवाही करते हुए मुखबिर द्वारा बताए गए स्थान पहुँचने पर चौबे मोहल्ला खैड़ार गांव के रोड में ही एक सफेद रंग की अल्टो कार खड़ी दिखाई दी। जिसके बीच बाले गेट से दो व्यक्ति कुछ भारी वस्तु को निकालने का प्रयास कर रहे थे। तभी दोनों व्यक्ति ने बोलेरो वाहन की रोशनी को देखते ही वाहन को उकतादा हालात में छोड़कर वहां से भागने का प्रयास करने लगे, जिन्हें पुलिस स्टाफ द्वारा दौड़कर पकड़ने का प्रयास किया गया। जिसमें से एक व्यक्ति को पुलिस ने पकड़कर अभिरक्षा में ले लिया तथा दूसरा व्यक्ति नजदीक के ज्वार के फसल वाले खेत में घुस गया और रात्रि के अधियारे का फायदा उठाकर वहां से भागने में सफल हो गया। जिसके पश्चात हिरासत में आए संदेही व्यक्ति से नाम पता पूछा गया जो अपना नाम प्रिंस दुबे पिता स्व0 रामचंद्र दुबे उम्र 19 वर्ष (बड़कुड़) का होना बताया, जिसके बाद संदेही से उसके साथी के बारे में पूछने पर अपने साथी का नाम प्रकाश द्विवेदी पिता रामशुभग दुद्विवेदी (पराई) का होना बताया।

संदेही प्रिंस दुबे एवं उसके कब्जे की मारुती ALTO 800 CAR रजिस्ट्रेशन नंबर UP63 26970 वाहन की तलाशी ली गई, तो कार के बीच के भाग में पीले रंग के प्लास्टिक की भरी हुई बोरी बरामद की गई। बरामदशुदा बोरी को खोलकर देखा गया तो बोरी प्रतिबंधित नशीली कफ सिरप से भरी हुई पाई गई, सभी बोरियों में प्रतिबंधित मादक पदार्थ कोडीन युक्त नशीली कफ सीरफ कुल 210 नग सीसी प्रत्येक 100 ML की क्षमता वाली पाई गई। प्रतिबंधित मादक पदार्थ कोडिन फास्फेट युक्त WINGS ONEREX कफ सिरप के विक्रय एवं परिवहन का कोई वैध कागजात नहीं होने से समक्ष साक्षियों को जप्त कर पुलिस ने कब्जे में ले लिया। आरोपी प्रिंस दुबे एवं फरार आरोपी प्रकाश व्दिवेदी के विरुध्द अपराध धारा 8/21, 22 एनडीपीएस एक्ट का कायम कर विवेचना में लिया गया। आरोपियों पर पहले से ही लगातार नजर रखी जा रही थी, किंतु वह पकड़ में नहीं आ रहे थे।

Viral Video