Golden Boy Neeraj Chopra : नीरज चोपड़ा को मिला सर्वोच्च सम्मान !

Golden Boy Neeraj Chopra : के लिए देश का 73वां गणतंत्र दिवस (Republic Day 2022) यादगार बन गया । भारत सरकार ने उन्हें सर्वोच्च सम्मान में पद्म श्री के लिए चुना वहीं सेना ने उन्हें परम विशिष्ट सेवा मेडल प्रदान किया है। नीरज चौपड़ा ने इसके लिए देश को धन्यवाद दिया है और वादा किया है कि वे लगातार देश का नाम रोशन करते रहेंगे।

Golden Boy Neeraj Chopra :  नीरज चोपड़ा का जीवन परिचय

नीरज चोपड़ा का जन्म 24 दिसंबर 1997 को हरयाणा के पानीपत नामक शहर के एक छोटे से गाँव खांद्रा में हुआ था। उनके  पिता का नाम सतीश कुमार है। वे एक किसान हैं। माता सरोज देवी एक गृहणी है। 11 वर्ष की आयु से ही नीरज चोपड़ा को जैवलिन थ्रो अर्थात भाला फेकने का शौक था। 

नीरज चोपड़ा एक भारतीय एथलिट हैं जो ट्रैक एंड फील्ड के जेवलिन थ्रो नामक खेल से जुड़े हुए हैं। वे एथलीट होने के साथ-साथ भारतीय सेना में सूबेदार पद पर भी पदस्थ हैं। सेना में बेहतरीन प्रदर्शन के लिए उन्हे  विशिस्ट सेवा मैडल से भी सम्मानित किया जा चूका है।

Golden Boy Neeraj Chopra : नीरज चोपड़ा की शिक्षा ?

जेवलिन थ्रो अर्थात भाला फेंक खिलाड़ी नीरज चोपड़ा ने प्रारंभिक शिक्षा हरियाणा में ही पूरा किया है। प्रारंभिक पढ़ाई को पूरा करने के बाद नीरज चोपड़ा ने बीबीए कॉलेज  से ग्रेजुएशन की डिग्री प्राप्त की थी।

Golden Boy Neeraj Chopra ; नीरज चोपड़ा क्या है शौक ?

Golden Boy Neeraj Chopra के लिए जेवलिन थ्रो एक जुनून है, लेकिन नीरज बाइक चलाना भी बहुत पसंद है। नीरज चोपड़ा को गोलगप्पे बहुत पसंद है। खिलाड़ी होने के कारण उन्हें डाइट फॉलो करना पड़ता है।कभी शाकाहारी रहे नीरज ने खेल के कारण मांसाहारी भोजन करना शुरू किया।

Golden Boy Neeraj Chopra : नीरज चोपड़ा को मोगली क्यों कहते हैं ?

सोशल मीडिया पर लोग उन्हें लंबे बालों की वजह से मोगली कहते हैं। शायद ऐसा उनके लंबे बाल और फुर्तीला होने के कारण।

Golden Boy Neeraj Chopra : नीरज चोपड़ा के भाला का वजन कितना था ?

नीरज चोपड़ा ने जिस भाले का इस्तेमाल स्वर्ण पदक जीतने के लिए किया था, उस भाले का वजन 800 ग्राम था। भाले केई वजन IAAF (International Association of Athletics Federations) निर्धारित करता है। 

Golden Boy Neeraj Chopra : नीरज चोपड़ा के कोच कौन थे?

नीरज के कोच का नाम उवी होह्न Uwe Hohn है। 

Golden Boy Neeraj Chopra : वर्ष और मेडल

  • 2016 में नीरज ने पोलैंड में अंडर-20 विश्व चैंपियनशिप में गोल्ड मेडल जीता। 
  • 2018 में गोल्ड कोस्ट में हुए राष्ट्रमंडल खेलों में थ गोल्ड मेडल। 
  • 2018 में एशियाई खेलों में 88.07 मीटर तक जैवलिन थ्रो कर राष्ट्रीय रिकॉर्ड बनाया था और गोल्ड मेडल भी जीता। 
  • 2021 नीरज चोपड़ा टोक्यो ओलंपिक में गोल्ड मेडल जीतने वाले भारत के पहले खिलाड़ी बने।