GOOGL NEWS
हिन्दी न्यूज

ओ.बी खनन से बैगा जनजाति का जीना दूभर,कलेक्टर ने लिखा NCL को पत्र

Singrauli: The life of the Baiga tribe is difficult due to OB mining, the collector wrote a letter to NCL

सिंगरौली कलेक्टर राजीव रंजन मीना के द्वारा विगत दिवस राजस्व एवं नगर निगम के अधिकारियो के साथ मुड़वानी ग्राम का भ्रमण किया गया। भ्रमण के दौरान कलेक्टर ने वहा पर निवासरत परिवारो को शासन द्वारा दी जाने वाली जन कल्याणकारी योजनाओ सहित खाद्यान प्राप्ति के संबंध मे जानकारी ली।


पढिए : खबरों का बादशाह कौन? अख़बार,टीवी या वेब


भ्रमण के दौरान मुड़वानी ग्राम के बैगा परिवारो द्वारा एनसीएल के द्वारा ओ.बी खनन के कारण होने वाली समस्याओ से कलेक्टर को अवगत कराया गया। जिसे कलेक्टर द्वारा गभीरता पूर्वक लेते हुये कलेक्टर ने ओ.बी के आने वाले बहाव का अवलोकन किया गया।इस संबंध कलेक्टर द्वारा अध्यक्ष सह प्रबंध निर्देशक एनसीलए को इस आशय का पंत्र भेजा गया कि जिले मे स्थापित एनसीएल की जयंत एवं निगाही कोयला परियोजनाओ मे कोयला खनन हेतु भारी मात्रा मे ओ.बी. का उत्खनन किया जाता है।

singrauli collector rajeev ranjan meena
The life of the Baiga tribe is difficult due to OB mining, the collector wrote a letter to NCL

ओ.बी. को मुड़वानी डैम के आस पास डंम्प किया जा रहा है। डैम के भराव क्षेत्र मे डंम्प की गई ओ.बी. का बरसात के मौसम मे तीव्र गति से कटाव होता है जो मलबे के रूप मे डैम सहित आस पास के क्षेत्र मे फैल जाता है जिससे डैम मे भराव की स्थिति उत्पन्न होती है।कलेक्टर ने पंत्र के माध्यम से प्रबंध निर्देशक एनसीएल को अवगत कराया कि ओबी के बहाव से मुड़वानी ग्राम के प्रकृतिक पर्यावरण को भी काफी क्षति होती है।


पढिए :सिंगरौली के 250 गांवों के उपभोक्ताओं को मिलेगी डबल लाइन से गुणवत्ता पूर्ण बिजली


उन्होने अवगत कराया कि मुड़वानी डैम के आस पास बैगा जन जाति के लोग निवास करते है यह गाव उनका पुस्तैनी निवास स्थल है बैगा जन जाति अत्यान्त संवेदनशील एवं पूरी तरह से प्रकृतिक वातावरण मे रहने वाली जन जाति है। ओबी के अत्याधिक कटाव से बस्ती मे निवासरत लोगो मे भय का वातावरण निर्मित हो रहा है।

उपरोक्त को दृष्टिगत रखते हुये मानवीय दृष्टिकोण से उचित व्यवस्था कराना आवश्यक है तथा ओ.बी. के कटवा, बहाव को रोकने हेतु सभी ढलानो पर भी उचित व्यवस्था कराया जाना आवश्यक है ताकि किसी भी प्रकार की जन हानि धन हानि से बचा जा सके।

पूरा ख़बर पढने के लिए क्लिक करें

न्यूज डेस्क

उर्जांचल टाईगर (राष्ट्रीय हिन्दी मासिक पत्रिका) के दैनिक न्यूज़ पोर्टल पर समाचार और विज्ञापन देने के लिए संपर्क करें। व्हाट्स ऐप नंबर -7805875468 मेल आईडी - editor@urjanchaltiger.in
Back to top button