hindi news

कोयला मंत्रालय संसदीय सलाहकार समिति बैठक में सांसदों ने रेल मार्ग से कोयला ढुलाई का दिया सुझाव

14 दिसम्बर 2020 को कोयला मंत्रालय संसदीय सलाहकार समिति की बैठक केन्द्रीय कोयला मंत्री प्रल्हाद जोशी की अध्यक्षता में नई दिल्ली में आयोजित की गई। बैठक में कोयला मंत्रालय के सचिव, विभिन्न कोयला कंपनियों के सीएमडी तथा सलाहकार समिति सदस्य मध्यप्रदेश से राज्यसभा सांसद अजय प्रताप सिंह व सोनभद्र (रॉबर्ट्सगंज) सांसद पकौड़ी लाल कोल ने भाग लिया।

बैठक में सांसद द्वय ने कोयले की ज्यादा से ज्यादा ढुलाई रेल मार्ग से करने का सुझाव दिया। इससे सड़क मार्ग से कोयले की ढुलाई से होने वाले प्रदूषण, सड़क दुर्घटनाओं पर रोक लगेगी।

सांसद अजय प्रताप सिंह ने सुझाव दिया कि नॉर्दर्न कोल फ़ील्ड्स लि0 की सभी कोल परियोजनाओं को फर्स्ट माईल प्रोजेक्ट्स कनेक्टिविटी (संपर्क परियोजनाओं) में सम्मिलित किया जाय तथा कोयला खदान से डिस्पैच पॉइन्ट(रवानगी वाले बिंदु) तक परिवहन सुनिश्चित किया जाय।इससे कोयले की आपूर्ति में दक्षता में सुधार और दो बिंदुओं के बीच मौजूदा सड़क परिवहन की जगह कंप्यूटर से संबंध लदान व्यवस्था लागू होगी।

खदानों में बढ़ रही चोरी की घटनाओं को रोकने सहित कई अन्य सुझाव दिए।

सांसद द्वय ने कोल इंडिया कॉरिडोर (सीआईसी) में चल रहीं रेल दोहरीकरण परियोजनाएं सिंगरौली-कटनी, चोपन -नगरऊंटारी, सिंगरौली-चोपन, करैला रोड -शक्तिनगर तथा चोपन -चुनार रेल खण्डों पर रेल लाईन दोहरीकरण कार्य जल्द से जल्द पूरा कराए जाने हेतु कोयला मंत्री से रेलमंत्री पियूष गोयल से अनुरोध करने तथा इस हेतु कोयला मंत्रालय व रेल मंत्रालय के अधिकारियों के मध्य परस्पर वार्तालाप व बैठकों का आयोजन हो। इसके अतिरिक्त सांसद द्वय ने स्थानीय युवाओं, विस्थापितों को रोजगार उपलब्ध कराने एवँ सीएसआर व डीएमएफ फण्ड नियमानुसार क्षेत्रीय स्तर पर ख़र्च किये जाने, खदानों में बढ़ रही चोरी की घटनाओं को रोकने आदि बावत भी विभिन्न सुझाव दिए।

पूरा ख़बर पढने के लिए क्लिक करें

अब्दुल रशीद

Abdul Rashid is a well-known Journalist, Political Analyst and a Columnist on national issue. Cont.No.-7805875468, Email - editor@urjanchaltiger.in
Back to top button