hindi news

रेलवे के17 हज़ार से ज्यादा कर्मचारियों के नौकरी पर लटकी तलवार,जानिए क्यों

रेलवे में नौकरी करने वाले 17161 कर्मचारियों पर सेवा मुक्त किया जा सकता है। ये सभी कर्मचारी अपने कार्य स्थल से बिना बताए गायब चल रहे हैं। इनमें जबलपुर रेल मंडल के लगभग 271 कर्मचारी भी शामिल हैं। रेलवे बोर्ड अध्यक्ष ने इस संबंध में कार्रवाई के लिए सभी महाप्रबंधकों को निर्देश जारी कर दिए हैं। माना जा रहा है कि सभी को सेवा मुक्त कर दिया जाएगा।

कहां और क्यों बिना सूचना के गायब हैं रेलवे के कर्मचारी ?

रेलवे के 16 जोन में 67 मंडल हैं। इन सभी मंडलों में 11 लाख से अधिक कर्मचारी कार्यरत हैं। इन कर्मचारियों में 17161 बिना बताए नौकरी से अनुपस्थित चल रहे हैं। इससे संबंधित कार्य स्थल का काम प्रभावित हो रहा है। इनमें कई कर्मचारी दूसरी जगह बिना बताए नौकरी करने लगे हैं या दूसरे कारणों से नौकरी को लेकर लापरवाह बने हुए हैं। इनमें रेलवे व्हील फैक्टरी, रेल कोच फैक्टरी, इंट्रीगल कोच फैक्टरी के भी 64 कर्मचारी शामिल हैं। 

12 दिसंबर को  रेलवे कर्मचारियों के काम की जानकारी के लिए रेलवे बोर्ड अध्यक्ष की मुख्य अधिशासी अधिकारियों व महाप्रबंधकों के साथ हुई बैठक में यह बात सामने आई। बताया गया कि उक्त कर्मचारियों के अनुपस्थित रहने से उनका दिसंबर माह में सकल वेतन शून्य बना। ये कर्मचारी बिना सूचना के गायब चल रहे हैं।

नौकरी से बाहर का रास्ता दिखा दिया जाता है।

इस पर अध्यक्ष ने महाप्रंबधकों को सत्यापन कर उक्त कर्मचारियों के खिलाफ नियमानुसार कार्रवाई के निर्देश दिए। ऐसी स्थिति में कर्मचारी को नौकरी से बाहर का रास्ता दिखा दिया जाता है।

पूरा ख़बर पढने के लिए क्लिक करें

न्यूज़ डेस्क,

उर्जांचल टाईगर (राष्ट्रीय हिन्दी मासिक पत्रिका) के दैनिक न्यूज़ पोर्टल पर समाचार और विज्ञापन देने के लिए संपर्क करें। व्हाट्स ऐप नंबर -7805875468 मेल आईडी - editor@urjanchaltiger.in
Back to top button