SDM कैसे बने ? जानिए आसान भाषा में विस्तार How to become SDM? Know the detail in easy language

SDM का मतलब Sub Divisional Magistrate है जो एक अनुमंडल मजिस्ट्रेट होता है जिसका पद रूतबेदार होता है। आपको बता दें की एक एसडीएम के पास सरकारी नौकरी के साथ कई पावर भी होती है। उनके काम का विस्तार भी काफी होता है। एसडीएम जो है वो राज्य प्रशासनिक सेवा में रैंक वाइज सबसे टॉप की रैंक के होते है। जो प्रमोट होकर डीएम और स्टेट गवर्नमेंट में सेक्रेटरी पदों तक पहुंचते हैं। एसडीएम के पास 24 घंटे काम ही काम होता है। आइए हम जानते हैं की कैसे बनते हैं एसडीएम और कितनी होती है पावर व कितनी मिलती है सैलरी औऱ क्या-क्या करने होते हैं काम..?

एसडीएम कैसे बने ? How to become SDM?

एसडीएम (SDM) बनने से पहले राज्य स्तर पर इसके UPSC,PCS के एग्जाम का आयोजन होता है। जिसके बाद संघ लोक सेवा आयोग (UPSC) और राज्य लोक सेवा आयोग (PCS) की परीक्षा पास करना होता है। पास होने के बाद टॉप रैंक वालों को एसडीएम का पद मिलता है।

एसडीएम के पावर ? Power of SDM?

SDM के फुल फॉर्म में अनुमंडल मजिस्ट्रेट शब्द होता है जिससे मजिस्ट्रेट शब्द सुनकर कई लोगों को ऐसा लगता है कि एसडीएम का काम न्यायालय से जुड़ा होता है लेकिन ऐसा नहीं है। एक एसडीएम के पास डिवीजन में वही, अधिकार और पावर है, जितना जिले में डीएम का होता है।

एसडीएम के पास क्या-क्या काम होते हैं?

What are the duties of SDM?

  • प्रशासनिक और न्यायिक काम।
  • राजस्व काम में जमीन का लेखा-जोखा, राजस्व मामलों का संचालन।
  • क्षेत्रीय विवादों को निपटना और आपदा प्रबंधन का जिम्मा।
  • जमीन का सीमांकन और अतिक्रमण जैसे मुद्दे।
  • सार्वजनिक भूमि का संरक्षण और भू-पंजीकरण।
  • लोकसभा और विधानसभा का चुनाव करवाना।
  • मैरिज रजिस्ट्रेशन, जाति, जन्म और निवास प्रमाण पत्र बनाना।
  • CPC 1973 और नाबालिग कृत्यों के तहत न्यायिक काम की भी जिम्मेदारी।
  • अलग-अलग तरह से रजिस्ट्रेशन, कई तरह के लाइसेंस जारी करना और रिन्यूअल करना।

एसडीएम को कितनी मिलती है सैलरी

How much salary does SDM get with facilities

How much salary does SDM get with facilities

एसडीएम को सरकारी आवास, घरेलू नौकर, वाहन, सुरक्षाकर्मी टेलिफोन कनेक्शन, फ्री बिजली, आधिकारिक यात्राओं के दौरान रहने की सुविधा, पेंशन, हायर स्टडीज के लिए अवकाश जैसी सुविधाएं मिलती हैं। एक एसडीएम को पे बैंड 9300-34800 में ग्रेड पे 5400 के हिसाब से सैलरी मिलती है। शुरुआत में 56,100 रुपए तक प्रतिमाह सैलरी होती है। भत्ता और सुविदाएं मिलाकर यह ज्यादा होती हैं।

Viral Video