देश की रक्षा करने वाले शूर वीरों एवं स्वाभिमानियो से खाली नहीं है भारत !

पुष्पेंद्र विश्वकर्मा ।। सीधी कारगिल विजय दिवस के अवसर पर विगत वर्षों की भांति इस वर्ष भी वीर नारियों एवं 1971 में भारत पाकिस्तान युद्ध में विजयी सुर वीरों का सम्मान समारोह का भव्य कार्यक्रम जिले के स्थानीय रमाबल्देव पैलेस में आयोजित किया गया।

इस कार्यक्रम में पधारे मुख्य अतिथि के रूप में सीधी के जिला मजिस्ट्रेट मुजीबुर्रहमान खान राष्ट्रगान व माल्यार्पण के माध्यम से स्वागत किया गया। मुख्य अतिथि कलेक्टर सीधी के द्वारा मां भारती की प्रतिमा के समक्ष दीप प्रज्वलित कर कार्यक्रम का शुभारंभ किया गया। कलेक्टर द्वारा वीर नारियों एवं 1971 युद्ध में शहीद वीर सैनिकों को साल श्रीफल स्मृति चिन्ह से सम्मानित किया गया।

सीधी कलेक्टर मुजीबुर्रहमान खान ने कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि देश के सैनिकों की वजह से ही हम सभी सुख और चिंता मुक्त जीवन जी पा रहे हैं। जांबाज सिपाही दिन रात एक-एक करके उत्साह पूर्वक अपने कर्तव्यों का निर्वहन करते हैं। इसलिए हम सभी का कर्तव्य है कि उनका मनोबल बढ़ाने में सहायक रहना चाहिए।

कलेक्टर मुजीबुर्रहमान खान अपने परिवार के प्रति बताते हुए भावुक हो गए और बोले कि मेरे पिता श्री भी नौसेना में अधिकारी पद से सेवा निवृत्त हुए हैं तथा सगे रिस्तेदार ब्रिगेडियर पद से सेवानिवृत्त हुए हैं। उन्होंने बताया कि मैं भी सेना में भर्ती होने के लिए एस एस बी की परीक्षा उत्तीर्ण करने के बाद पैर में कुछ गड़बड़ी की वजह से मेडिकल परीक्षण में बाहर हो गया था परन्तु दुबारा मौका नहीं मिला।

उन्होंने सभी लोगों से अपील करते हुए कहा कि फौजी भाइयों की त्याग और बलिदान तथा उनका समर्पण का सम्मान करते हुए पड़ोसी एवं परिवार के लोग नाजायज तरीके से परेशान न करे बल्कि उनकी समस्याओं को सुलझाने में महत्वपूर्ण भूमिका का निर्वहन करे।

कारगिल विजय दिवस के स्वागत समारोह में भाषण एक ओर जिला अध्यक्ष कैप्टन धीरेश सिंह ने किया तो दूसरी ओर सफल संचालन कैप्टन कुंअर बहादुर सिंह एवं महामंत्री श्याम बहादुर सिंह ने किया। समारोह में अबोध बाल विद्यालय के छात्र – छात्राओं ने अपने मधुर संगीत और नुक्कड़ नाटक कर सभी को मंत्रमुग्ध कर दिया।

कारगिल विजय दिवस समारोह में रीवा से पधारे धर्मेंद्र उपाध्याय एवं संकठा प्रसाद मिश्र, कमांडो एवं भाजपा के वरिष्ठ नेता सुरेश सिंह चौहान, उपाध्यक्ष कैप्टन पी के शर्मा ने भी सम्बोधित किया। तथा वीरांगना राधा देवी, सविता देवी, सुनीता सिंह, बिमला सिंह , कुसुम सिंह, वीरांगना राम किशोरी ताम्रकार , शहीद बृजभूषण तिवारी की पत्नी आदि को साल श्री फल भेंट कर सम्मानित किया गया। तथा बच्चों को स्मृति चिन्ह भेंट कर सम्मानित किया गया। एवं आए हुए अतिथियों को साल श्री फल भेंट कर सम्मानित किया गया।

सभी अतिथियों को सहभोज में सम्मिलित कर उत्साहवर्धन किया गया। समारोह में कैप्टन पृथ्वी पाल सिंह, ओंकार सिंह, वरिष्ठ अधिवक्ता विनय सिंह बाघेल, सी बी सिंह, आलोक सिंह,पत्रकार अमित सिंह, धर्मेंद्र सोनी, जगदीश सिंह, पटेल जी, पंडित जी के अलावा सैकड़ों पूर्व सैनिक परिषद सीधी के पदाधिकारियों एवं सदस्यों की उपस्थिति की वजह से सम्पन्न हुआ।

Viral Video