Ladli Laxmi Yojana 2.0: शिवराज मामा ने दिया लाड़ली लक्ष्मियों को वचन, IIT-IIM और मेडिकल की फ़ीस देगी सरकार

Ladli Laxmi 2.0: मैं वचन देता हूँ, प्रिय लक्ष्मी जी की शिक्षा में कोई बाधा नहीं आने दूँगा। अगर उन्हें IIT, IIM, मेडिकल, इंजीनियरिंग, लॉ कोर्स में एडमिशन मिलता है तो मामा फीस देंगे। इसकी घोषणा मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने की। यह बात उन्होंने बुधवार को रवीन्द्र भवन में लाड़ली लक्ष्मी योजना-2 के अवसर पर आयोजित प्रोत्साहन राशि वितरण समारोह में कही।

उन्होंने सांकेतिक रूप से पांच लड़कियो को 12,500 रुपये का चेक सौंपा, फिर रिमोट पर एक बटन दबाकर 1,477 लड़कियों के बैंक खातों में प्रोत्साहन राशि जमा की। इससे पूर्व मुख्यमंत्री ने लिंक रोड-2 को ‘लाडली लक्ष्मी पथ’ और स्मार्ट सिटी गार्डन को ‘लाडली लक्ष्मी वाटिका’ के रूप में नामकरण और लोकार्पण किया। इसके अलावा स्थानीय जनप्रतिनिधियों ने 52 जिलों में सड़कों और उद्यानों का उद्घाटन किया। पता चला है कि प्रदेश में अभी भी मेधावी छात्र योजना है। इसके तहत सरकार आईआईटी, आईआईएम, मेडिकल, इंजीनियरिंग में दाखिल छात्रों की फीस का भुगतान करती है। वहीं शिक्षा के लिए कर्ज लेने के लिए भी गारंटी देती है।

कार्यक्रम की शुरुआत में मुख्यमंत्री ने कन्या पूजा कर उपहार दिए। लाडली ने मध्य प्रदेश और लाडली लक्ष्मी के गीत गाए। मुख्यमंत्री ने अपने स्वागत करने से रोकते हुए दो लड़कियो को तुलसी के पौधे से सम्मानित किया। लाडली लक्ष्मी योजना का विचार कैसे आया, इसकी कहानी बताते हुए उन्होंने कहा, संस्कृति में देवियो का सम्मान होता है। भगवान के नाम से पहले देवियो का नाम लिया जाता है। हजारों साल की गुलामी ने हमारा नजरिया बदल दिया है। बेटी के पैदा होने पर सास अग्निमुखी हो जाती थी। गर्भ को कत्लखानों में बदल दिया जाता था।

उन्होंने कहा कि वह बचपन से ही लड़के-लड़कियों के बीच भेदभाव को देखकर परेशान हो जाते थे। मैं सोच रहा था कि इसे कैसे बदला जाए। 1990 में विधायक बने, फिर एक अनाथ लड़की से शादी की। सांसद बनने के बाद वह भत्ते के पैसे जमा करता था और लड़कियों की शादी कर देता था। जब वह नवंबर 2005 में मुख्यमंत्री बने, तो लाड़ली लक्ष्मी और कन्या विवाह/निकाह परियोजनाओं की शुरुआत की गई। उन्होंने कहा, मैं अपने जीवन की सफलता मानता हूँ कि बेटियों का कुछ भला कर पाऊँ। अगर आप कड़ी मेहनत करते हैं, तो आप चमत्कार कर सकते हैं। इस योजना का दूसरा चरण आज से शुरू हो रहा है। आज का दिन इतिहास में लिखा जाएगा। कन्या की राह में आने वाली सभी बाधाएं दूर हो गई हैं। ज्ञात हो कि प्रदेश में 43 लाख 30 हजार लाडली लक्ष्मी हैं।

सावधानी बरतने की सलाह

मुख्यमंत्री ने महिलाओं से कहा, हमें संस्कारी बनकर सही दिशा में बढ़ना है। कल आपकी कई बेटियाँ देश और राज्य पर राज करेंगी। बेटियां नया इतिहास रचेंगी। सेना, खेल, राजनीति सहित किसी भी क्षेत्र में जाएं। इंटरनेट मीडिया में लोगों को धोखा दिया जाता है। आपको सही दिशा में जाना होगा। हमने लड़कियों को नीची नजर से देखने वालों को फांसी पर चढ़ाएंगे। मुख्यमंत्री ने राज्य में लड़कियों और महिलाओं के पक्ष में लिए गए फैसलों की भी जानकारी दी।


Read Also-सिंगरौली मे मिली सोने की खदान, नीलामी की तैयारी हुई शुरू

Read Also-मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की बड़ी घोषणा, मध्य प्रदेश मे लागू किया जाएगा ‘पेसा एक्ट’

Read Also-कोडीन सिरफ के तस्कर को 120 शीशी के साथ पुलिस ने किया गिरफ्तार

Read Also-मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की बड़ी घोषणा, मध्य प्रदेश मे लागू किया जाएगा ‘पेसा एक्ट’


Viral Video