मध्यप्रदेशराजनीति

दमोह में शिवराज का विरोध, तख्तियां दिखाकर पूछा- चुनाव में नहीं है कोरोना ?

मध्यप्रदेश में बढ़ते कोरोना महामारी के चलते भोपाल सहित प्रदेश के कई जिलों में कोरोना कर्फ़्यू लगा है।लेकिन दमोह में नहीं। CM शिवराज सिंह चौहान सोमवार को दमोह में प्रचार के लिए पहुंचे, लेकिन यहां उन्हें विरोध का सामना करना पड़ा। टेंट कारोबारियों ने शिवराज को स्लोगन लिखी तख्तियां दिखाकर पूछा कि क्या चुनावी भीड़ पर कोरोना के नियम लागू नहीं होते हैं?आपको बता दें कि दमोह में विधानसभा उपचुनाव होना है।


यह भी पढ़ें : दमोह उपचुनाव : कोरोना से नहीं डरेंगे, मतदान हम जरूर करेंगें।


मुख्यमंत्री चौहान तलैया में आयोजित उमा मिस्त्री की सभा को संबोधित करने के लिए पहुंचे तो वहां पहले से खड़े टेंट हाउस एसोसिएशन, डीजे समेत शादी कार्यक्रम से रोजगार पाने वाले लोगों ने चुनाव का बहिष्कार करने की बात कहकर नारेबाजी की।

विरोध के दौरान लोगों ने चुनाव में नहीं है कोरोना, शादी विवाह में है रोना, चुनाव का बहिष्कार, पेट पर पड़ रही मार जैसे स्लोगन लिखी तख्तियां भी मुख्यमंत्री को दिखाईं।

CM चौहान के चुनावी सभा का विरोध करने पहुंचे दमोह के टेंट व्यवसायी आदिल भारती ने मीडिया को बताया कि कोरोना के कारण सरकार की तरफ से शादी-विवाह और अन्य समारोहों में अतिथियों की संख्या सीमित कर दी गई है। 18 अप्रैल से राज्य सरकार की तरफ से लॉकडाउन जैसे नियमों को पालन कराया जाएगा। जिसकी वजह से लोग टेंट के ऑर्डर कैंसिल कर रहे हैं. इसकी वजह से उन्हें नुकसान हो रहा है। 


दरअसल इस बार भी 22 अप्रैल से शुभ-मुहूर्त शुरू हो रहे हैं, लेकिन राज्य सरकार द्वारा 17 अप्रैल को वोटिंग के बाद पाबंदियां फिर से शुरू कर दी जाएंगी।


दमोह में लॉकडाउन नहीं लगाने को लेकर सरकार का जवाब  है कि दमोह हमारे कार्यक्षेत्र में नहीं है। चुनाव आयोग तय करेगा क्या करना है। 

न्यूज़ डेस्क,

उर्जांचल टाईगर (राष्ट्रीय हिन्दी मासिक पत्रिका) के दैनिक न्यूज़ पोर्टल पर समाचार और विज्ञापन देने के लिए संपर्क करें। व्हाट्स ऐप नंबर -7805875468 मेल आईडी - editor@urjanchaltiger.in
Back to top button