GOOGL NEWS
मध्यप्रदेश

बांदरी में मंत्री भूपेन्द्र सिंह ने दी 4.6 करोड़ के विकास कार्याें की सौगात

कांग्रेस 50 साल शासन में रही, लेकिन बांदरी का विकास नहीं किया।

सौरभ जैन

बांदरी। मध्यप्रदेश शासन के नगरीय विकास एवं आवास मंत्री भूपेन्द्र सिंह ने बांदरी को 4.6 करोड़ रूपए लागत के विकास कार्यों की सौगात दी। मंत्री श्री सिंह ने कहा कि वे जब भी बांदरी आये हैं, कभी खाली हाथ नहीं आये बल्कि कोई न कोई योजना लेकर आये है। उन्होंने बांदरी में सीएम राईजिंग स्कूल मंजूर कराने की घोषणा भी की।

मंत्री भूपेन्द्र सिंह का नागरिकों ने किया जोरदार अभिनंदन।

मंत्री भूपेन्द्र सिंह ने शुक्रवार 12 नवम्बर को बांदरी में 2.6 करोड़ रूपए लागत की सीसी मार्गों का लोकार्पण और 2 करोड़ रूपए लागत के विभिन्न विकास कार्याें का भूमिपूजन किया। बांदरी में मंत्री भूपेन्द्र सिंह को खुली जीप में बैठाकर कार्यक्रम स्थल नवीन खेल मैदान ले जाया गया। जहां नागरिकों ने उनका जोरदार अभिनंदन किया।

बांदरी में मंत्री भूपेन्द्र सिंह ने दी 4.6 करोड़ के विकास कार्याें की सौगात

कांग्रेस 50 साल शासन में रही, लेकिन बांदरी का विकास नहीं किया।

मंत्री भूपेन्द्र सिंह ने अपने संबोधन में कहा कि आज बांदरी में सभी के द्वारा आत्मीयता से जो स्वागत किया गया है, इसका मतलब होता है कि जनता ने जिसे चुना है, वह अगर काम करे तो ही जनता उसका स्वागत करती है। उन्होंने कहा कि जब पहली बार खुरई क्षेत्र से विधायक बना तब बांदरी में कुछ भी नहीं था। पूरा खुरई विधानसभा क्षेत्र बुरी तरह से पिछड़ा हुआ था। कांग्रेस 50 साल शासन में रही, मगर इस क्षेत्र का विकास नहीं किया।

बांदरी में मंत्री भूपेन्द्र सिंह ने दी 4.6 करोड़ के विकास कार्याें की सौगात

जब पहली बार विधायक बना तब बांदरी में विकास के लिए कहीं सरकारी जमीन नहीं थी क्योंकि सब तरफ फारेस्ट की जमीन हैं। सभी जानते है कि फारेस्ट की जमीन को ट्रांसफर कराना बहुत मुश्किल काम है। फिर भी लगातार कोशिश की और पहले 5 एकड़ फारेस्ट की जमीन को ट्रांसफर कराकर वहां बस स्टेण्ड और आडीटोरियम का निर्माण कराया। फिर महाविद्यालय खुलवाया और उसका भवन बनवाने के लिए पुलिस थाने की 5 एकड़ जमीन ट्रांसफर कराई। दूसरी बार मंत्री बनने के बाद महाविद्यालय भवन निर्माण के लिए साढ़े छह करोड़ रूपए स्वीकृत कराये।

……..पूरा बांदरी क्षेत्र सिंचित हो जाएगा।

बांदरी में पेयजल की समस्या का स्थाई निदान कराने के लिए पठार तालाब से पानी सप्लाई हेतु 3 करोड़ रूपए पाईपलाईन के लिए स्वीकृत कराये हैं। उल्दन पर धसान नदी का बांध बन रहा है, जिससे बांदरी नगर पंचायत के ग्रामों में प्रत्येक घर को नल से पानी पहुंचाया जाएगा। इसके साथ ही 70 हजार हेक्टेयर में सिंचाई होगी और पूरा बांदरी क्षेत्र सिंचित हो जाएगा।

बांदरी को अब तहसील का दर्जा दिलाना है।

मंत्री भूपेन्द्र सिंह ने कहा कि बांदरी में पार्क, शादीघर, स्टेडियम बनाने के लिए जगह नहीं थी तो इस बार और ज्यादा कोशिश करके फारेस्ट की 24 एकड़ जमीन ट्रांसफर कराई है। इस तरह बांदरी पहला ऐसा नगर है जिसमें विकास कार्याें के लिए 34 एकड़ जमीन सरकारी कराई गई है। उन्होंने बांदरी के नगर पंचायत बन जाने से यहां मिलने वाली पात्रताओं का विस्तृत ब्यौरा देते हुए कहा कि मध्यप्रदेश में सबसे ज्यादा मकान बनाने में खुरई पहले नंबर पर और देश में पांचवे नंबर पर है। बांदरी को अब तहसील का दर्जा दिलाना है।

बांदरी में मंत्री भूपेन्द्र सिंह ने दी 4.6 करोड़ के विकास कार्याें की सौगात

किसी को हटाया नहीं जाएगा।

मंत्री भूपेन्द्र सिंह ने बांदरी में सीएम राइजिंग स्कूल खुलवाने की घोषणा करते हुए कहा कि यहां गौशाला का निर्माण भी कराया जाएगा। जीर्णशीर्ण मंदिरों का पुर्नरूद्धार किया जाएगा और सभी समाजों के सामुदायिक भवन बनेंगे। बांदरी के अस्पताल को 30 बेड का बनाया जाएगा। हाट बाजार योजना के तहत चार-पांच सौ पक्की दुकानें बनेंगी। किसी को हटाया नहीं जाएगा।

जब भी बांदरी आता हूं, कभी खाली हाथ नहीं आता

मंत्री भूपेन्द्र सिंह ने कहा कि खुरई विधानसभा क्षेत्र 50 साल से पिछड़ा रहा है। उनकी इच्छा है कि वे इसकी भरपाई करें। इसके लिए हम काम कर रहे हैं। जब भी बांदरी आता हूं, कभी खाली हाथ नहीं आता बल्कि कोई न कोई योजना लेकर आता हूं। पुनः विश्वास दिलाता हूं कि क्षेत्र के विकास में कोई कमी नहीं आने दूंगा। भव्य और गरिमापूर्ण इस कार्यक्रम में भाजपा के स्थानीय नेता, कार्यकर्ता, बांदरी क्षेत्र के नागरिक, अधिकारी कर्मचारी गण उपस्थित थे।

पूरा ख़बर पढने के लिए क्लिक करें

ब्यूरो

उर्जांचल टाईगर (राष्ट्रीय हिन्दी मासिक पत्रिका) के दैनिक न्यूज़ पोर्टल पर समाचार और विज्ञापन देने के लिए संपर्क करें। व्हाट्स ऐप नंबर -7805875468 मेल आईडी - editor@urjanchaltiger.in
Back to top button