भोपालमध्यप्रदेश

MADHYAPRADESH NEWS : पंचायत सचिव,वेतन 12 हज़ार,संपत्ति करोड़ से ज्यादा

 तंख्वाह हजार रुपए प्रतिमाह है, लेकिन करोड़ों की संपत्ति का मालिक है, क्योंकि वह पंचायत सचिव है। जी हाँ यह कोई कहानी नहीं माध्यप्रदेश के करोड़पति पंचायत सचिव हैं जिनका नाम शैलेंद्रसिंह जाट है। लोकयुक्त के छापे में उसके पास दो मकान, 5 प्लॉट, खुद के नाम 1 बीघा जमीन, 180 ग्राम सोना, 390 ग्राम चांदी, 47500 रुपए नकद, 6 बैंक खातों में 93 हजार रुपए जमा है जबकि भाई के नाम 5 हेक्टेयर जमीन, ट्रैक्टर, बुलट सहित 3 बाइक, ऑल्टो कार के दस्तावेज मिले हैं। लोकयुक्त ने पूरी सम्पत्ति का अनुमान 70 लाख रुपए लगाया गया है, पर बाजार मूल्य में यह लगभग एक करोड़ से अधिक है।पूरे दस्तावेज जब्त कर प्रॉपर्टी कारोबार में इसके साझेदार नरेश जैन को भी तलब किया है।


जरूर पढ़ें : सिंगरौली जिले में कोरोना गाईडलाइन दरकिनार कर धड़ल्ले से चल रहा स्कूल,जिम्मेदार मौन!


corruption 1

कमाई लाखों में खर्चा करोड़ों में  

ग्वालियर, के जनपद पंचायत भितरवार, मस्तूरा के जिस पंचायत सचिव के घर पर लोकायुक्त पुलिस ने छापा मारा उसका नाम शैलेंद्र सिंह जाट उर्फ शैलू है। सरपंच कमल जाटव के शिकायत पर लोकायुक्त पुलिस ने अपनी जांच शुरु की थी। शुक्रवार सुबह लोकायुक्त पुलिस ने दो स्थानों भितरवार के वार्ड-9 स्थित घर और किठौता गांव में एक साथ छापामार कार्रवाई की है।

तो अभी तक जितना वेतन मिला है, उससे कहीं अधिक उसने खर्चा कर रखा है। साल 2008 में पंचायत सचिव की नौकरी शुरु करने वाले शैलेंद्र सिंह का मासिक वेतन लगभग 12 हजार रुपए है। 31 अक्टूबर 2019 तक उसकी कुल आय 13.30 लाख रुपए लेकिन लोकायुक्त पुलिस ने अपनी जांच में पाया कि शैलेंद्र सिंह के पास कहीं ज्यादा संपत्ति मिला है।

न्यूज़ डेस्क,

उर्जांचल टाईगर (राष्ट्रीय हिन्दी मासिक पत्रिका) के दैनिक न्यूज़ पोर्टल पर समाचार और विज्ञापन देने के लिए संपर्क करें। व्हाट्स ऐप नंबर -7805875468 मेल आईडी - editor@urjanchaltiger.in
Back to top button