मध्यप्रदेश

पत्नी ने छोड़ा घर तो पति मासूम पुत्री के संग फांसी लगाकर दुनिया छोड़ दी।

मध्यप्रदेश के जबलपुर में एक रिक्शा चालक की पत्नी झगड़े के बाद घर छोड़कर चली गई। और पति गुस्से में सात साल की मासूम बेटी संग फंदे से झूल गया। पिता पुत्री दोनों की लाश कमरे में एक साथ फांसी के फंदे पर लटका देख पुलिस भी स्तब्ध रह गई।

घरेलू कलह क्या पिता और मासूम बेटी को फांसी पर झूलने को विवश कैसे कर सकता है? मध्यप्रदेश एक रिक्शा चालक और उसके सात वर्षीय बेटी के शव को फांसी के फंदे पर झूलता देख यह सवाल ज़ेहन में कौंध रहा है।

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार हनुमानताल क्षेत्र के प्रेमसागर चौकी के पीछे लखन केशरवानी का मकान है। एक महीने पहले बेलवा रीवा निवासी रामकृष्ण सोंधिया (35) पत्नी व बेटी सपना (08) के साथ रहने आया था। लखन केशरवानी के मुताबिक रामकृष्ण रिक्शा चलाता था। वह बेटी को पढ़ाने के लिए रीवा से जबलपुर आया था। आमदनी कम थी। और जरूरतें अधिक। दिन भर हाड़तोड़ परिश्रम के बावजूद 100-150 रुपए ही वह कमा पाता था। इसे लेकर घर में अक्सर झगड़ा होता था।

पूरा ख़बर पढने के लिए क्लिक करें

न्यूज़ डेस्क, उर्जांचल टाईगर

उर्जांचल टाईगर (राष्ट्रीय हिन्दी मासिक पत्रिका) के दैनिक न्यूज़ पोर्टल पर समाचार और विज्ञापन देने के लिए संपर्क करें। व्हाट्स ऐप नंबर -7805875468 मेल आईडी - editor@urjanchaltiger.in
Back to top button