मध्यप्रदेश

मुख्यमंत्री कोविड कल्याण योजना,अब न पढ़ाई रुकेगी न जीवन

सीहोर जिले के ग्राम तुरनिया के मंजू और राजकुमार अहिरवार के पिता श्री रामगोपाल अहिरवार का 7 मई को कोरोना से निधन हो गया। माँ श्रीमती नानी बाई की मृत्यु पहले ही हो चुकी थी। दोनों बच्चों को दूर तलक अपना भविष्य अंधकारमय नज़र आ रहा था। पढ़ाई का सोचना छोड़ वे जीवन-यापन के लिये काम-धंधे की तलाश करने लगे, ऐसे में मुख्यमंत्री कोविड कल्याण योजना उनके सामने गहन तिमिर में उज्जवल किरण की भांति आयी।

लगा संघर्षों का एक कठिन दौर शुरू हो गया है।

राजकुमार ने बताया कि कोरोना से अचानक हुई पिताजी की मृत्यु ने मुझे इतना झकझोर दिया था कि मैं कुछ सोच ही नहीं पा रहा था। साथ में छोटी बहन भी है। पिताजी मेहनत-मज़दूरी करके घर चलाते थे। इसलिये घर में कोई संपत्ति या पूंजी भी नहीं थी, जिसके सहारे हम जीवन-यापन कर सकें। लगा संघर्षों का एक कठिन दौर शुरू हो गया है।मुख्यमंत्री कोविड कल्याण योजना,अब न पढ़ाई रुकेगी न जीवन

अब न पढ़ाई रुकेगी न जीवन

ऐसे में महिला एवं बाल विकास अधिकारी हमारे घर आए और पूरी जानकारी ली। उन्होंने बताया कि मुख्यमंत्री बाल कोविड कल्याण योजना के तहत हमें मदद मिलेगी। हमारे लिये यह किसी चमत्कार से कम नहीं है। ईश्वर के साथ हम सरकार के भी शुक्रगुजा़र हैं, जो उन्होंने हमारे इस भयानक संकट में इतना बड़ा आसरा दिया। अब जीवन-यापन की चिंता छोड़ हम अपनी पढ़ाई जारी रख सकेंगे।


मुख्यमंत्री कोविड-19 बाल कल्याण योजना,अनाथ बच्चों के लिए दोहरा मापदंड क्यों ?


 

पूरा ख़बर पढने के लिए क्लिक करें

अब्दुल रशीद

Abdul Rashid is a well-known Journalist, Political Analyst and a Columnist on national issue. Cont.No.-7805875468, Email - editor@urjanchaltiger.in
Back to top button