NEWSभारतसिंगरौली न्यूज

सिंगरौली : बलियरी फैक्ट्री हादसा के ग्यारह साल बाद भी फैक्ट्रियों का स्थानांतरण न होना दुखद।

बैढ़न कार्यालय।। औद्योगिक क्षेत्र बलियरी में 5 जुलाई 2009 को विस्फोट में 22 श्रमिक शहीद हुए थे जिन्हें आज सिंगरौली विधानसभा के विधायक राम लल्लू वैश एवं कलेक्टर सिंगरौली राजीव रंजन मीना, पुलिस अधीक्षक वीरेंद्र कुमार सिंह के द्वारा शहीद हुए श्रमिकों के स्मारक पर पुष्प अर्पित कर दी श्रद्धांजलि।

कलेक्टर सिंगरौली राजीव रंजन मीना के द्वारा यह सप्ताह पूरे औद्योगिक क्षेत्र के कंपनियों में सुरक्षा सप्ताह के रूप में चलाए जाने का निर्देश दिया गया। अंत में शहीद श्रमिकों के आत्मा की शांति के लिए रखा गया 2 मिनट का मौन ।

बलियरी फैक्ट्री में भीषण विस्फोट में 22 लोगों की हुई थी मौत !

05 जुलाई 2009 को जिला मुख्यालय बैढ़न के औद्योगिक क्षेत्र बलियरी स्थित आइडियल एक्सप्लोसिव बारूद फैक्ट्री में भीषण विस्फोट हुआ था। हादसे में 22 लोगों की मौत हो गई और करीब 120 लोग घायल हो गए। घटना के दूसरे दिन सीएम शिवराज सिंह चौहान भी मौके पर पहुंचे थे।

ग्यारह साल बाद भी फैक्ट्रियों का नही हो सका स्थानांतरण। 

11 साल पहले हुए बलियरी ब्लास्ट हादसे के बाद इन फैक्ट्रियों को स्थानांतरण के आदेश भी दिए गए थे,लेकिन उन आदेशों के बावजूद भी आज यह फैक्ट्रियां बखूबी संचालित हो रही हैं। यह जहां एक ओर जिला प्रतिनिधियों की जनता की जनता के प्रति उनकी उदासीनता को दर्शाता है वहीं तंत्र पर भी कई गंभीर सवाल खड़े करता है। क्योंकि ग्यारह साल में 15 माह को छोड़ कर ना सत्ता बदली,ना जनप्रतिनिधि और न ही मुख्यमंत्री।

तब मुख्यमंत्री ने सभी फैक्ट्रियों को स्थानांतरित करने को भी कहा था। जिला प्रशासन द्वारा फैक्ट्री संचालकों को डग्गा में जमीन उपलब्ध करा दी गई थी। बावजूद इसके संबंधित मामले को लेकर जिला प्रशासन फैक्ट्रियों के स्थानांतरण को लेकर बस इतना ही गंभीर है की बीते ग्यारह साल से श्रद्धांजली सभा करना नहीं भूलती,बस स्थानांतरण करना भूल गई है।

Adv.

न्यूज़ डेस्क, उर्जांचल टाईगर

उर्जांचल टाईगर (राष्ट्रीय हिन्दी मासिक पत्रिका) के दैनिक न्यूज़ पोर्टल पर समाचार और विज्ञापन देने के लिए संपर्क करें। व्हाट्स ऐप नंबर -7805875468 मेल आईडी - editor@urjanchaltiger.in

Leave a Reply

Back to top button
Close
Close