अर्थ-जगत

MSMEs को लोन मिलने में हो रही दिक्कत,सरकार देगी राहत – नितिन गडकरी

केंद्रीय सड़क परिवहन, राजमार्ग और MSME मंत्री नितिन गडकरी ने शनिवार को कहा कि कोविड-19 से उपजी परिस्थितियों की वजह से आर्थिक लड़ाई लंबी चलने वाली है। उन्होंने कहा कि इस आर्थिक लड़ाई में हमारे लिए कुछ अच्छी चीजें भी हैं और कुछ दिक्कतें भी हैं।एक वर्चुअल कार्यक्रम में गडकरी ने कहा कि हाल में घोषित पैकेज को लागू करना सरकार की जिम्मेदारी है।

MSMEs को लोन मिलने में दिक्कत हो रही है। यह बात केंद्रीय सड़क परिवहन,राजमार्ग और MSME मंत्री नितिन गडकरी ने एक वेबसाइट के एडिटोरियल डायरेक्टर के साथ बातचीत में भी माना है।

MSMEs को बैंकों से हो 3 लाख करोड़ रुपये की क्रेडिट गारंटी स्कीम के तहत मिलने वाले लोन में रही दिक्कत से जुड़े सवाल पर गडकरी ने कहा,

‘’प्रधानमंत्री ने जो पैकेज घोषित किया है, उसमें उन्होंने बड़े साफ तौर पर कहा है- कोलेटरल फ्री लोन. 100 करोड़ (रुपये) जिनका टर्नओवर है, 25 फीसदी जिनका प्लांट में इन्वेस्टमेंट है, ऐसे लोगों के लिए 20 फीसदी कोलेटरल फ्री लोन मिलेगा। कोई गारंटी देने की जरूरत नहीं है। अलग-अलग बैकों में जो गाइडलाइन्स चल रही हैं, उससे डिस्बर्समेंट में थोड़ी दिक्कत आ रही है। ये बात मेरी जानकारी में आई.’’

गडकरी ने कहा कि उन्हें पता है कि सेंक्शन होता है लेकिन डिस्बर्समेंट होने में थोड़ा समय लगता है।

उन्होंने कहा, ”किसी भी प्रोग्राम के लागू होने में समस्याएं तो आती ही हैं। पॉलिसी की घोषणा के बाद उससे जुड़ी जो भी दिक्कतें आ रही हैं, हम वित्त मंत्री से बात करके उनका समाधान निकालेंगे। जरूरत हुई तो मैं प्रधानमंत्री जी से भी इस बारे में चर्चा करूंगा।”

गडकरी ने MSMEs की अहमियत को लेकर कहा, ‘’MSME देश के लिए काफी अहम सेक्टर है क्योंकि हमारी GDP ग्रोथ में 29 फीसदी ग्रोथ MSME से जुड़ती है। अब तक MSME ने 11 करोड़ रोजगार पैदा किए हैं।’(’सभार/द क्विंट)

Adv.

न्यूज़ डेस्क, उर्जांचल टाईगर

उर्जांचल टाईगर (राष्ट्रीय हिन्दी मासिक पत्रिका) के दैनिक न्यूज़ पोर्टल पर समाचार और विज्ञापन देने के लिए संपर्क करें। व्हाट्स ऐप नंबर -7805875468 मेल आईडी - editor@urjanchaltiger.in

Leave a Reply

Back to top button
Close
Close