NEWSशिक्षा

सरकारी नौकरी : मध्य प्रदेश में एक लाख और शिक्षकों की होगी भर्ती।

राष्ट्रीय शिक्षा नीति को अमली जामा पहनाने में लगे राज्यों के लिए एक नई चुनौती सामने उभर कर आई है। इसके लिए उन्हें पहले सरकारी स्कूलों में शिक्षकों के खाली पड़े पदों को भरना होगा। शिक्षा विभाग नई शिक्षा नीति को तेजी से पूरे देश में लागू करने में जुटा है। इसके तहत शिक्षा विभाग शिक्षकों के खाली पदों और उनकी भर्ती को लेकर पूरी तरह चौकन्ना है।

आपको बता दें कि केवल मध्यप्रदेश में ही 91हज़ार से अधिक शिक्षकों के पद खाली हैं। और अगर तत्काल इन पदों पर भर्ती की जाती है तो यकीनन यह बेरोजगारों के लिए बहुत बड़ी राहत की बात होगी। शिक्षा विभाग के द्वारा राज्यों से शिक्षकों के खाली पदों का ब्यौरा मांगा गया है।

राष्ट्रीय स्तर पर बात करें तो लगभग10 लाख शिक्षकों के पद खाली पड़े हैं। प्राप्त जानकारी के अनुसार कई राज्यों में 1लाख के करीब पद खाली हैं। जिसमें मध्यप्रदेश दूसरे नंबर पर है। इसी प्रकार छत्तीसगढ़, बंगाल,झारखंड, राजस्थान,आंध्रप्रदेश समेत कई राज्यों में हज़ारों की तादाद में शिक्षकों के पद खाली पड़े हैं।

राज्य में शिक्षकों के खाली पदों का ब्योरा इस प्रकार है 

  • छत्तीसगढ़ – 51 हजार से अधिक
  • मध्य प्रदेश – 91 हजार से अधिक
  • झारखण्ड – 95 हजार से अधिक
  • पश्चिम बंगाल – 72 हजार से अधिक
  • राजस्थान – 47 हजार से अधिक
  • आँध्रप्रदेश – 34 हजार से अधिक
  • उत्तराखंड – 18 हजार से अधिक

Adv.

न्यूज़ डेस्क, उर्जांचल टाईगर

उर्जांचल टाईगर (राष्ट्रीय हिन्दी मासिक पत्रिका) के दैनिक न्यूज़ पोर्टल पर समाचार और विज्ञापन देने के लिए संपर्क करें। व्हाट्स ऐप नंबर -7805875468 मेल आईडी - editor@urjanchaltiger.in
Back to top button
Close
Close