NEWS

REWA NEWS : थाने में हुए गैंग रेप मामले की जांच DIG स्तर के अधिकारी से कराने के दिए निर्देश

विज्ञापन

रीवा। राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग ने जिले के मनगवां थाने के लॉकअप में हत्या के आरोपी के साथ थाना के अंदर ही तत्कालीन SDOP एवं पूर्व थाना प्रभारी सहित 3 पुलिस कर्मियो ने गैंगरेप मामले का संज्ञान लिया है। आयोग ने राज्य के मुख्य सचिव, डीजीपी और डीजी जेल को नोटिस जारी किए हैं। आयोग ने डीआईजी स्तर के अधिकारी को पूरी घटना की जांच करने का निर्देश दिया है। आयोग ने मीडिया रिपोर्टों के आधार पर स्वत: संज्ञान लिया है।

खबर के मुताबिक, हत्या के आरोप में ग्यारह दिनों तक थाने में रखी गई युवती के साथ थाना के अंदर ही तत्कालीन SDOP एवं पूर्व थाना प्रभारी सहित 3 पुलिस कर्मियो ने गैंगरेप किया। उस दौरान, मानिकवार पोस्ट की महिला एसआई को भी इस घटना की जानकारी थी, क्योंकि वह उसे पुलिस स्टेशन ले गई थी और पूछताछ भी कर रही थी।

दो दिन पहले जिला अधिवक्ता संघ के अध्यक्ष राजेंद्र पांडेय ने मीडिया से मामले का खुलासा करते हुए दोषी पुलिसकर्मियों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की। उन्होंने कहा कि जिला और सत्र न्यायाधीश ने भी इस मामले की न्यायिक जांच की स्थापना की है। वहीं, पुलिस की ओर से आधिकारिक तौर पर कुछ भी नहीं कहा जा रहा है। पुलिस की ओर से यह भी कहा जा रहा है कि उक्त लड़की इससे पहले भी कई लोगों पर आरोप लगा चुकी है।

जिस तारीख के दौरान उस पर गैंगरेप का आरोप लगाया जा रहा है वह घटना और गिरफ्तारी से पहले की है। पुलिस का कहना है कि हत्या की घटना जिसमें महिला आरोपी है, 14 मई को प्रकाश में आई, इसलिए उसकी दलीलें निराधार हैं। वहीं, एसपी राकेश सिंह का कहना है कि उन्हें इस संबंध में जिला न्यायालय से कोई पत्र नहीं मिला है।

शिकायत आईजी तक पहुंचा 

गैंगरेप के आरोपी हत्या का आरोप लगाने वाली महिला के परिवार को आईजी और एसपी कार्यालय से संपर्क किया गया था। उनका कहना है कि वह जेल से बाहर आने की साजिश रच रही है। साथ ही वह जेल से संदेश भेज रही है कि अगर वह बाहर आई तो वह पीड़ित परिवार को नहीं छोड़ेगी। लोगों ने यह मांग भी उठाई कि जब इसकी वजह से पुलिस सुरक्षित नहीं है तो आम लोगों का क्या होगा। आरोपी लड़की के खिलाफ सख्त कार्रवाई की गई है।

Adv.

न्यूज़ डेस्क, उर्जांचल टाईगर

उर्जांचल टाईगर (राष्ट्रीय हिन्दी मासिक पत्रिका) के दैनिक न्यूज़ पोर्टल पर समाचार और विज्ञापन देने के लिए संपर्क करें। व्हाट्स ऐप नंबर -7805875468 मेल आईडी - editor@urjanchaltiger.in

Leave a Reply

Back to top button
Close
Close