NEWS

लालू जी का ख्वाब था कि सिकटा राजद जीते – विनय यादव

By नुरुल होदा

बिहार विधानसभा चुनाव में चंपारन क्षेत्र के सिकटा विधानसभा सीट की राजनीतिक गणित काफी उलझी लग रही है। सिकटा सीट पर उम्मीदवारों की दावेदारी को देखा जाए तो महागठबंधन की तरफ से ये सीट भाकपा-माले के खाते में दी गई है। वहीं भाजपा-जदयू गठबंधन की तरफ से खुर्शीद आलम उम्मीदवार है जिन्हें नीतीश सरकार में अल्पसंख्यक मंत्री बनाया गया था। जदयू ने उन्हें दोबारा चुनाव में उतारा है। लेकिन दिलचस्प ये है कि इस इलाके में जुझारू एवं किसान नेता के रूप में अपनी पहचान बनाने वाले राजद के जिला प्रधानमहासचिव रहे विनय यादव भी स्वतंत्र रूप से इस सीट पर दावेदारी कर रहे हैं। उनसे बातचीत से पता चला है कि लालू यादव 90 के दशक से ही इस सीट को जीतना चाहते थे मगर कभी कामयाब नहीं हुए। उसका कारण ये था कि ये सीट हमेशा बिहार के सांमंतियों के कब्जे में रही है। दशकों से उन्ही का बोलबाला इस सीट पर रहा है। इसके साथ ही यहाँ का एक पूर्व विधायक ने राबड़ी देवी के साथ बदसलूकी करने की कोशिश किया था। इसलिए वो चाहते थे कि सामंतियों के वर्चस्व को तोड़ कर यहां राजद का झंडा गाढ़ा जाए। वो कई बार कोशिश भी किए लेकिन निराशा हाथ लगी। इसके पीछे कई वजहें हैं। एक तो यहाँ संगठन ऐसे लोगों के हाथो में था जिन्होंने कभी यहाँ सही से काम नहीं किया।

वैसे तो इस क्षेत्र में ज्यादतर बहुजन जातियों की संख्या है किंतु उनमें गरीबी के साथ साथ शिक्षा और चेतना का भारी कमी है। लेकिन राजद से अलग निर्दलीय चुनाव लड़ रहे विनय यादव का कहना है कि पिछले सात-आठ सालों में यहाँ की तस्वीर बदली है। हमने बहुजन जातियों में चेतना फैलाने एवं एकजुट करने का लगातार प्रयास किये हैं। काफी हद तक लोग हमारे समर्थन में हैं।एक तो पहले यहां सही से काम नहीं किया गया और अब जो काम किया है या जिसका जनाधार है उन्हे टिकट नहीं दिया जाता। अभी जिसको टिकट दिया है उनका कोई जनाधार इस इलाके में नहीं है। संभवतः ये एक साजिश के तहत हुआ है। वर्ना इस सीट पर माननीय लालूजी का झंड़ा जरूर लहराता। लेकिन हम जीतकर उनका सपना जरूर पूरा करेंगे।

न्यूज़ डेस्क, उर्जांचल टाईगर

उर्जांचल टाईगर (राष्ट्रीय हिन्दी मासिक पत्रिका) के दैनिक न्यूज़ पोर्टल पर समाचार और विज्ञापन देने के लिए संपर्क करें। व्हाट्स ऐप नंबर -7805875468 मेल आईडी - editor@urjanchaltiger.in

Leave a Reply

Back to top button
Enable Notifications    OK No thanks