NEWSभ्रष्टाचार

घर में मिनी बार रखने वाला बिजली कंपनी का रिश्वतखोर उप महाप्रबंधक कैसे हुआ रंगेहाथ गिरफ़्तार ?

भोपाल।।हर फाइल के पांच हजार रुपए लेने वाला मध्य क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी लिमिटेड ब्यावरा के उप महाप्रबंधक को रंगेहाथ लोकायुक्त की टीम ने गिरफ्तार कर लिया है। टीम ने अधिकारी के पास से रिश्वत के 10 हजार रुपए भी जब्त किए हैं। लोकयुक्त टीम ने एक साथ ब्यावरा और भोपाल में कार्रवाई की। 

कौन है हर फाइल पर पांच की रिश्वत लेने वाला?

bribe
image credit to bhaskar

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार रितेश श्रीवास्तव उम्र 36 साल पिता एनके वर्मा 173 प्रीमियम ऑर्चिड पीपुल्स मॉल के पीछे भोपाल में रहते हैं। मूलत: उत्तर प्रदेश बनारस का रहने वाला है। संभाग मध्य क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी लिमिटेड ब्यावरा जिला राजगढ़ में उप महाप्रबंधक (संचालन एवं संधारण) के पद पर पदस्थ है। 

घर में मिनी बार रखने वाला बिजली कंपनी का रिश्वतखोर उप महाप्रबंधक कैसे हुआ रंगेहाथ गिरफ़्तार 

रितेश ने ब्यावरा निवासी बिजली के ठेकेदार सुरेंद्र गुर्जर से योजना के तहत किसानों के ट्रांसफार्मर लगाने के लिए रिश्वत मांगी थी। हर फाइल के 5 हजार रुपए का रिश्वत तय किए थे। सत्यापन के दौरान ही रितेश 15 हजार रुपए ले चुका था। ठेकेदार सुरेंद्र ने इसकी शिकायत 17 दिसंबर को की थी। लोकायुक्त की टीम ने जांच के बाद सोमवार को ब्यावरा स्थित ऑफिस से रितेश को रिश्वत लेते रंगेहाथ पकड़ा। लोकयुक्त टीम ने रितेश के भोपाल स्थित घर पर भी छापा मारा जहां से बड़ी मात्रा में कागजात जब्त किए।पुलिस की टीम को भोपाल स्थित रितेश के मकान में मिनी बार मिला। इसके अलावा पूरे घर में एसी लगे हुए थे। घर पर चारों तरफ कांच और लाइटिंग लगी मिली। 

पूरा ख़बर पढने के लिए क्लिक करें

न्यूज़ डेस्क, उर्जांचल टाईगर

उर्जांचल टाईगर (राष्ट्रीय हिन्दी मासिक पत्रिका) के दैनिक न्यूज़ पोर्टल पर समाचार और विज्ञापन देने के लिए संपर्क करें। व्हाट्स ऐप नंबर -7805875468 मेल आईडी - editor@urjanchaltiger.in
Back to top button