NEWS

विश्व का सबसे बड़ा टीकाकरण अभियान16 जनवरी से मध्यप्रदेश में होगा शुरू

वैक्सीनेशन के प्रथम चरण में लगभग 03 करोड़ व्यक्तियों को कोरोना वैक्सीन लगाया जाएगा। इनमें पहले सभी स्वास्थ्यकर्मी, पुलिसकर्मी, रक्षा कर्मी, सफाई कर्मी तथा इसके बाद 50 वर्ष से अधिक आयु के व्यक्तियों तथा 50 वर्ष से कम आयु के उन व्यक्तियों को टीका लगाया जाएगा, जिन्हें 'को-मॉरबिडिटी' है (अर्थात जो डाइबिटीज, ब्लडप्रेशर, सांस की बीमारी आदि से ग्रसित हैं)।

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी के नेतृत्व में देश का सबसे बड़ा टीकाकरण अभियान 16 जनवरी से मध्य प्रदेश में प्रारंभ होगा। हमारी तैयारी चाक-चौबंद है। सारे परीक्षणों के बाद तैयार वैक्सीन ‘कोविशील्ड’ एवं ‘कोवैक्सीन’ को हरी झंडी दी गई है, जो सर्वश्रेष्ठ, पूर्ण रूप से सुरक्षित एवं रोग प्रतिरोधक क्षमता पैदा करने में सक्षम हैं। कुछ लोग भ्रम फैलाने की कोशिश कर रहे हैं, परंतु हमें उनकी बातों पर ध्यान नहीं देना है।

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने बीते दिन वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से कोविड-19 टीकाकरण पर सभी राज्यों और केन्द्र शासित प्रदेशों के मुख्यमंत्रियों, उप राज्यपालों, प्रशासकों को संबोधित कर रहे थे। वीसी में मंत्रालय से मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, स्वास्थ्य मंत्री डॉ. प्रभुराम चौधरी, चिकित्सा शिक्षा मंत्री विश्वास सारंग शामिल हुए। मुख्य सचिव  इकबाल सिंह बैंस, अपर मुख्य सचिव स्वास्थ्य मोहम्मद सुलेमान आदि उपस्थित थे।


पीएम नरेंद्र मोदी वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से कोविड-19 टीकाकरण पर संबोधन के महत्वपूर्ण अंश 

 The world's largest vaccination campaign will begin in Madhya Pradesh from January 16
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी

PM नरेन्द्र मोदी ने कहा है कि यह भारत के लिए गर्व की बात है कि 16 जनवरी से भारत में विश्व का सबसे बड़ा टीकाकरण अभियान कोरोना वैक्सीनेशन प्रारंभ हो रहा है। जिन दो वैक्सीन ‘कोवीशील्ड’ व ‘कोवैक्सीन’ को इमरजेंसी इस्तेमाल की अनुमति मिली है ये दोनों ‘मेड इन इंडिया’ है।

1-निर्णायक चरण है, असावधानी नहीं करनी है

कोरोना के विरूद्ध लड़ाई के निर्णायक चरण में हैं। जब तक पूरी तरह जीत नहीं जाते हमें थोड़ी भी असावधानी नहीं करनी है, पूर्व की तरह ही सभी सावधानियों का पालन करते रहना है।

2-वैक्सीनेशन 45 दिन की प्रक्रिया

वैक्सीनेशन की कुल 45 दिन की प्रक्रिया है। पहले डोज एवं दूसरे डोज के बीच 28 दिन का अंतर होगा तथा दूसरे डोज के 14 दिन बाद वैक्सीनेशन का असर होगा। अर्थात इस दौरान कोरोना प्रोटोकाल का पूर्ववत पालन करना है, कोई असावधानी नहीं करनी है।

3-‘कोविन’ डिजिटल प्लेटफार्म

वैक्सीनेशन कार्य की मॉनीटरिंग के लिए ‘कोविन’ डिजिटल प्लेटफार्म बनाया गया है। पहला डोज लगते ही टीका लगवाने वाले को एक डिजिटल प्रमाण-पत्र दिया जाएगा, जिसमें अगले डोज की तिथि अंकित होगी। दूसरा डोज लगने के बाद व्यक्ति को फाइनल सर्टिफिकेट मिलेगा। ‘कोविन’ पर टीकाकरण की ‘रीअल टाइम’ एंट्री होगी। श्री मोदी ने कहा कि हमें इस कार्य में दूसरे देश ‘फॉलो’ करेंगे। कार्य में थोड़ी भी असावधानी या लापरवाही नहीं होनी चाहिए।

4-अफवाहों-दुष्प्रचार को नाकाम करना है

प्रधानमंत्री श्री मोदी ने कहा कि कतिपय लोग वैक्सीन की विश्वसनीयता को लेकर अफवाह फैला सकते हैं अथवा दुष्प्रचार कर सकते हैं, हमें उन अफवाहों तथा दुष्प्रचार को पूरी तरह नाकाम करना होगा।


वैक्सीन सुरक्षित और प्रतिरक्षात्मक

कोरोना वैक्सीन कोवीशील्ड और कोवैक्सीन को ड्रग्स कंट्रोलर जनरल द्वारा इमरजेंसी इस्तेमाल की अनुमति दी गई है। ये दोनों वैक्सीन पूरी तरह सुरक्षित और प्रतिरक्षात्मक हैं।

अमित शाह,गृह मंत्री


पूरी तरह सुरक्षित हैं दोनों वैक्सीन

‘कोवीशील्ड’ व ‘कोवैक्सीन’ दोनों पूरी तरह सुरक्षित हैं। ये दोनों ‘इम्यूनोजैनिक’ अर्थात शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने वाले हैं, साथ ही संक्रमण को रोकने वाले हैं। जिन्हें को- मोरबिडिटी (अन्य बीमारियां) हैं उनके लिए भी वैक्सीन पूर्ण रूप से सुरक्षित है। यह शरीर में रोग से लड़ने के लिए एंटी बॉडीज पैदा करता है।

डॉ. विनोद पाल,इंडिया साइंटिफिक कमेटी के वैज्ञानिक


कोरोना विकसित देशों में बढ़ रहा है वहीं भारत में लगातार घट रहा है

जहां विश्व के कुछ विकसित देशों में कोरोना बढ़ रहा है वहीं भारत में लगातार कम हो रहा है। सितम्बर के मध्य में भारत में कोरोना के 10 लाख 17 हजार 154 सक्रिय प्रकरण थे, वहीं आज की स्थिति में 2 लाख 22 हजार हैं।

राजेश भूषण,केन्द्रीय स्वास्थ्य सचिव


1075 व 104 हैल्प लाइन

कोरोना संबंधी मदद के लिए ‘कोविन’ हेल्प लाइन संचालित रहेंगी। केन्द्रीय हेल्पलाइन का नंबर 1075 तथा राज्य सरकारों की हेल्पलाइन का नंबर 104 होगा।

Adv

अब्दुल रशीद

Abdul Rashid is a well-known Journalist, Political Analyst and a Columnist on national issue. Cont.No.-7805875468, Email - editor@urjanchaltiger.in
Back to top button
Enable Notifications    OK No thanks