बैढ़नसिंगरौली न्यूज

एक समाज के बच्चों को अलग बैठाकर उनकी परीक्षा ली गई, जो भारतीय संविधान के खिलाफ है- शैलेन्द्र

सिंगरौली। इंदौर नौलक्खा बंगाली हायर सेकेंडरी विद्यालय में छात्रों के साथ धर्म को लेकर हुये भेदभाव को लेकर पी.एस.-5 के जिलाध्यक्ष शैलेन्द्र कुमार ने महामहिम राज्यपाल,मुख्यमंत्री एंव मानवाधिकार अयोग्य के नाम कलेक्टर को सौपा ज्ञापन।

कक्षा 12वीं की परीक्षा के दौरान इंदौर नवलखा में स्थित बंगाली हायर सेकेंडरी स्कूल में बच्चों के साथ भेदभाव पूर्ण तरीके से व्यवहार करते हुए एक विशेष समुदाय के बच्चों को स्कूल के बाहर पृथक से कैंपस में बैठाया गया जो कतई बर्दाश्त नहीं किया जाएगा, एक समाज के बच्चों को अलग बैठाकर उनकी परीक्षा ली गई, जो भारतीय संविधान के खिलाफ है, कोरोना एक बीमारी है यह किसी समुदाय विशेष में नहीं फैली है आज यह संपूर्ण भारत व दुनिया में फैली है, इस वायरस से कोई भी धर्म का व्यक्ति संक्रमित होने से नहीं बचा है, परीक्षा केंद्र को तत्काल प्रभाव से निरस्त किया जाए एवं सम्बंधित बोर्ड को निर्देश दिया जाए उस विषय का परीक्षा दोबारा पूरे प्रदेश में हो,नफरत फैलाने वाले विचारधारा के विद्यालय प्रबंधन जिला शिक्षा अधिकारी एवं परीक्षा केंद्राध्यक्ष पर तत्काल प्रभाव से निलंबित कर कड़ी से कड़ी कानूनी कार्रवाई किया जाए जिससे कि भविष्य में ऐसी घटना और भेदभाव की पुनरावृत्ति ना हो ।

शैलेन्द्र कुमार जिलाध्यक्ष पी.एस.-5

 

Adv.

न्यूज़ डेस्क, उर्जांचल टाईगर

उर्जांचल टाईगर (राष्ट्रीय हिन्दी मासिक पत्रिका) के दैनिक न्यूज़ पोर्टल पर समाचार और विज्ञापन देने के लिए संपर्क करें। व्हाट्स ऐप नंबर -7805875468 मेल आईडी - editor@urjanchaltiger.in

Leave a Reply

Back to top button
Close
Close