सिंगरौली न्यूज

शासकीय जमीन पर अवैध निर्माण जारी,अतिक्रमणकारी के सामने जिम्मेदार नतमस्तक !

सिंगरौली (उर्जांचल टाईगर)।। जमीनों का मसला बड़ा ही दर्द विदारक होता है देश में रहने वाली आबादी में कुछ भाग ऐसा भी है जिनके पास में दो वक्त की रोटी एवं सर छुपाने की जगह तक नसीब नहीं है वही समाज में ऐसा दूसरा तबका भी है जोकि सरकारी जमीनों पर अवैध रूप से अतिक्रमण कर बकायदा इन जमीनों की सौदेबाजी भी करता है और यह सब शासन तंत्र के लोगों से मिली भगत के कारण ही संभव हो पाता है। अक्सर देखने मे यह आया है कि अवैध कार्यो में संलिप्त लोगों को सह देने के पीछे निजस्वार्थ होता है । आखिरकार यह भी तो अब तंत्र का हिस्सा बन चुका है । इन दिनों ऐसा ही एक वाक्या सिंगरौली जिले में भी देखने को मिल रहा है जिसमे की शासन बेशकीमती जमीन पर अतिक्रमणकारी बेखौफ होकर कब्जा जमा रहें हैं और प्रसासन मौन धारण किये है जो कि समझ से परे है।

क्या है मामला

मध्य प्रदेश के सिंगरौली जिला की गोरबी पुलिस चौकी क्षेत्र का मामला है जहाँ पर मध्यप्रदेश शासन की जमीन पर अतिक्रमण कारी के द्वारा काफी पहले से नजर घड़ी हुई थी साथ ही सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार अतिक्रमण कारी के द्वारा मध्यप्रदेश शासन की जमीन पर कब्जा कर पूर्व में बेचा जा चुका है एवं गोरबी मुख्य बाजार पर स्थित शासकीय जमीन पर अब व कायदा दुकानों का निर्माण कार्य कराया जा रहा है बजाय इस पर कार्यवाही करने के जिम्मेदार मौन धारण किए हैं ।70×30=2100वर्गफीट की जमीन पर राज बहोर सोनी के द्वारा अतिक्रमण बदस्तूर जारी है।

नायब तहसीलदार ने निर्माण कार्य रोकने के दिये आदेश

संबंधित मामले में न्यायालय नायब तहसीलदार वृत दूधमनिया तहसील चितरंगी से वाकायदा लिखित आदेश जारी किया गया है जिसमे की राज बहोर सोनी को निर्माण कार्य रोकने के निर्देश दिया गया है ।

मिलीभगत की आशंका

सरकारी जमीन के अतिक्रमण के मामले में सूत्रों का कहना है कि संबंधित अधिकारी का अतिक्रमण कर्ता के घर पर आना जाना है। मामले में पटवारी प्रतिवेदन प्रस्तुत करने के उपरांत निर्माण कार्य रोकने का आदेश तो दे दिया गया है परंतु इस पर अभी कोई कार्यवाही शुरू नही हुई,निर्माण कार्य बदस्तूर जारी है। अतः इस बात से इनकार नहीं किया जा सकता है कि बगैर मिलीभगत से निर्माण कार्य किया जा रहा।

पुलिस का कहना है

संबंधित मामले में गोरबी पुलिस चौकी प्रभारी सुधाकर सिंह ने कहा कि संबंधित मामले में आवश्यक कार्यवाही की जाएगी ।

इनका कहना है

संबंधित मामले को लेकर जब तहसीलदार संजय जाट से बात की गई तब उन्होंने कहा कि संबंधित मामले में निर्माणकर्ता को कार्य रोकने के आदेश दिए गए थे बावजूद इसके अगर निर्माण कार्य जारी है इस पर वैधानिक कार्यवाही की जाएगी।

Adv.

न्यूज़ डेस्क, उर्जांचल टाईगर

उर्जांचल टाईगर (राष्ट्रीय हिन्दी मासिक पत्रिका) के दैनिक न्यूज़ पोर्टल पर समाचार और विज्ञापन देने के लिए संपर्क करें। व्हाट्स ऐप नंबर -7805875468 मेल आईडी - editor@urjanchaltiger.in

Leave a Reply

Back to top button
Close
Close