NEWSबैढ़न

सिंगरौली को फिर से लॉक डाऊन करने का प्लान है – विधायक सुभाष वर्मा

NEWS UPDATE 04:07pm

उर्जांचल टाईगर से फोन पर देवसर विधायक ने कहा की,बढ़ते कोरोना के मद्दे नज़र पूरे सिंगरौली को लॉकडाऊन करने का प्लान है,बाहर से आए परवासी मजदूर के आने से कोरोना का मामला तेजी से बढ़ा है। कोरोना के फैलाओ को रोकने के लिए ज्यदा से ज्यादा सेनेटाईजेशान और मास्क का उपयोग करें हमने सीधे निर्देशित किया है जिला प्रशासन को बगैर मास्क के बाहर घूमने वालों पर सख्त कार्यवाही हो और जिन दुकानों में गइडलाइन का पालन नहीं किया जा रहा है उन पर कार्यवाही होनी चाहिए,जैसे अनेक विषयों पर जिला के समीक्षा बैठक में चर्चा हुई है।

BMO के लापरवाही वाले मामले पर उन्होने कहा की मुझे पूरा मामले की जानकारी नहीं है,पूरी जानकारी के बाद कोई टिप्पणी करेंगे।

चिंतनीय  : कोरोना पॉज़िटिव BMO की लापरवाही, कहीं सिंगरौली को इंदौर न बना दे !

सिंगरौली में किल कोरोना अभियान न बन जाए कोरोना फैलाने का माध्यम,प्रशासन को गंभीर चिंतन करना चाहिए। सवाल यह है की बगैर जांच के कील कोरोना अभियान में ड्यूटी लगा कर घर घर भेजना क्या सही है ? क्या बाहर से आने वाले आम नागरिक के लिए ही जांच और 14 दिन का कोरेंटाइन की जरूरी है,अधिकारियों व कर्मचारियों के लिए नहीं ?

सिंगरौली,मध्यप्रदेश।।उत्तर प्रदेश के बलिया से शादी का दावत से लौटे ब्लॉक चिकित्सा अधिकारी न केवल एक जुलाई से छह जुलाई तक किल कोरोना अभियान की ड्यूटी में रहें और क्षेत्र में भ्रमण करते रहे,बल्कि इस दरम्यान उन्होंने मरीजों की ओपीडी व इलाज भी किया है। जाहिर है कि चिकित्सक व उनके परिवार वालों की लिस्ट सैकड़ों में होगी। फिलहाल कलेक्टर के निर्देश पर स्वास्थ्य केंद्र और आवास परिसर वाले पूरे क्षेत्र को कंटेनमेंट एरिया घोषित कर दिया गया है

यह भी पढिए : एक कप चाय के लिए लॉक डाउन नियम तोड़ने की दे दी गई अनुमति ?

स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों के मुताबिक संपर्क में आए लोगों के सैंपलिंग में स्वास्थ्य विभाग जुटा हुआ है।अब स्वास्थ्य विभाग भी इस बात को लेकर चिंता में है कि बीएमओ के संक्रमित होने के बाद उनके संपर्क में जितने भी मरीज व स्वास्थ्य कर्मी आए हैं, उन सबका सैंपल जांच के लिए भेजा जाएगा। जिला प्रशासन व स्वास्थ्य विभाग की ओर से वैश्विक महामारी कोरोना के संक्रमण को रोकने के लिए प्रयास किया जा रहा है।

CMHO सिंगरौली ने बताया बलिया से लौटे BMO और उनके परिवार के तीन सदस्य कोरोना पॉज़िटिव हैं,और  किल कोरोना अभियान में ड्यूटी किया है। BMO के विरुद्ध एफ़आईआर होगा,लेकिन इस सवाल पर चुप रहें के क्या किल कोरोना अभियान में ड्यूटी करने वालों का कोरोना का टेस्ट किया जाता है।

Adv.

न्यूज़ डेस्क, उर्जांचल टाईगर

उर्जांचल टाईगर (राष्ट्रीय हिन्दी मासिक पत्रिका) के दैनिक न्यूज़ पोर्टल पर समाचार और विज्ञापन देने के लिए संपर्क करें। व्हाट्स ऐप नंबर -7805875468 मेल आईडी - editor@urjanchaltiger.in

Leave a Reply

Back to top button
Close
Close