NEWSबैढ़न

पूर्व विधायक तिलकराज सिंह को पूर्व सरपंच ने 17 लाख 67 हजार 5सौ रूपये का लगाया चूना

सिंगरौली।। फर्जी हस्ताक्षर करके खाते से 17,67500 (सत्रह लाख सतसठ हजार पाँच सौ रूपये) पूर्व सरपंच निगरी रामसांचे दुबे के द्वारा सन 2019 से 2020 तक लगातार पूर्व विधायक तिलकराज सिंह के खाते से  हर महीने 50,000 से 55000 हजार फर्जी हस्ताक्षर करके ड्रावल व चेक बुक से निकालने का मामला प्रकाश में आया है।

यह भी पढे : सिंगरौली सहित मध्य प्रदेश के चार जिलों में 29 करोड़ का बिजली घोटाला !

कैसे हुआ खुलासा 

पूर्व सरपंच निगरी रामसांचे दुबे के द्वारा पैसे निकालने की जानकारी पूर्व विधायक तिलकराज सिंह की बेटी कमलेश सिंह जिला पंचायत सदस्य व पूर्व काग्रेस प्रत्याशी धौहनी को दिनांक 03-10-20 को तब हुई जब बैक खाता का स्टेटमेन्ट निकलवाई। स्टेटमेन्ट से पता चला की रामसांचे दुबे निगरी जो अक्सर विधायक के साथ रहता था। वह उनके हस्ताक्षर का नकल करके उनके खाते से हर महीने फर्जी हस्ताक्षर करके 50000 हजार से लेकर 55000 हजार रुपए तक निकालता था। खाते से  01-10-20 तक मे 17,67500 रूपये निकाल चुका है।

इस बात का खुलासा बीते दिन 07-10-20 को विधायक द्वारा निगरी,निवास,महुआगाॅव,हर्दी,कटई,छमरछ के सरपंचो व सम्मानित व्यक्तियों का बैठक करके निवास मे अस्पताल के सामने हनुमान जी के मंदिर के प्रांगण मे किया गया। पूर्व सरपंच निगरी रामसांचे दुबे ने पहले तो  आनाकानी किया कि हम नही निकाले है लेकिन जब सामने खाता का स्टेटमेन्ट रखा गया तब कबूल किया की हां हम निकाले है। उपस्थित लोगो के सामने चेक काट कर विधायक जी को पैसा वापस दिया।

पहले भी किया है ठगी 

उपास्थित लोगो द्वारा आरोप भी लगाया गया की इसका यही धंधा ही है कई लोगो से इसी तरह धोखा धडी किया है दो वर्ष पहले एक छत्तीसगढ़ के एक व्यापरी से गाय और 10 हजार रूपये का लूट भी किया था जिसमे 3 महीने फरार भी था बाद मे हाई कोर्ट से जमानत हुई इसके अलावा निगरी निवासी मटुकलाल साहू से 1लाख पच्चास हजार का ठगी किया था जिसमे उसके द्वारा पुलिस मे रिपोर्ट करने के बाद वापस किया था इसी तरह से सैकड़ो लोगो से ठगी कर चुका है।

Adv.

संवाददाता उर्जांचल टाईगर(दैनिक न्यूज़ पोर्टल)

उर्जांचल टाईगर (राष्ट्रीय हिन्दी मासिक पत्रिका) के दैनिक न्यूज़ पोर्टल पर समाचार और विज्ञापन देने के लिए संपर्क करें। व्हाट्स ऐप नंबर -7805875468 मेल आईडी - editor@urjanchaltiger.in

Leave a Reply

Back to top button
Close
Close