Petrol-Diesel Filling : बिना इस पेपर के पेट्रोल पंपों पर इस तारीख से पेट्रोल-डीजल नहीं मिलेगा

Petrol-Diesel Filling : बिना पीयूसी वाले वाहनों को ईंधन की आपूर्ति नहीं करने की तैयारी की जा रही है और 25 अक्टूबर से ग्राहकों को प्रदूषण नियंत्रण यानी प्रदूषण प्रमाण पत्र के बिना ईंधन नहीं मिलेगा।

Delhi Government’s PUC Policy

दिल्ली सरकार ने वायु प्रदूषण की समस्या से निपटने के लिए और कड़े कदम उठाने शुरू कर दिए हैं. प्रदूषण के स्तर को कम करने के लिए विभिन्न अभियान भी चल रहे हैं।

बिना पॉल्यूशन अंडर कंट्रोल (PUC Certificate) सर्टिफिकेट के चलने वाले वाहनों पर स्क्रू लिफ्टिंग शुरू हो गई है। अब इस दिशा में एक और कदम उठाया गया है। यह सुनिश्चित करने की तैयारी की जा रही है कि बिना पीयूसी वाले वाहनों में ईंधन की आपूर्ति न हो और 25 अक्टूबर से उपभोक्ताओं को प्रदूषण नियंत्रण यानि प्रदूषण प्रमाण पत्र के बिना ईंधन न मिले।

दिल्ली सरकार के पर्यावरण मंत्री गोपाल राय ने कहा कि 25 अक्टूबर से राष्ट्रीय राजधानी के पेट्रोल पंपों पर पीयूसी के बिना पेट्रोल, डीजल नहीं मिलेगा। मंत्री ने यह भी कहा कि दिल्ली सरकार प्रदूषण से निपटने और संशोधित जीआरएपी के प्रभावी कार्यान्वयन को सुनिश्चित करने के लिए 3 अक्टूबर को 24 घंटे का नियंत्रण कक्ष शुरू करेगी।

इसका मकसद मुख्य रूप से राजधानी में हो रहे प्रदूषण को नियंत्रित करना है। दिल्ली सहित उत्तर भारत विशेष रूप से सर्दियों के दौरान गंभीर वायु प्रदूषण का सामना करता है।

हम आपको बता दें कि परिवहन विभाग बिना वैध प्रदूषण नियंत्रण प्रमाण पत्र (PUC) के वाहन मालिकों को एक वैध प्रमाण पत्र प्राप्त करने या जुर्माना भरने के लिए तैयार रहने के लिए एक नोटिस जारी कर रहा है।

आधिकारिक सूत्रों के मुताबिक नोटिस भेजने के बाद भी अगर वाहन मालिक को एक सप्ताह के भीतर वैध पीयूसी नहीं मिलता है तो मोबाइल पर 10,000 रुपये का ई-चालान भेजा जाएगा और वास्तव में इसकी जानकारी कोर्ट को दी जाएगी।

Viral Video