Shraddha Murder Case : श्रद्धा के शव को 35 टुकड़े करने वाला आफताब बेरहमी से पीटता था !

Shraddha Murder Case : श्रद्धा वॉकर के दोस्तों द्वारा किए गए खुलासे में चौकने वाले तथ्य सामने आया है। दोस्तों द्वारा किए गए खुलासे से के अनुसार श्रद्धा वॉकर और आफताब का रिश्ता शुरू में तो अच्छा था लेकिन बाद में खराब हो गया। दरअसल,आफताब अमीन पूनावाला श्रद्धा को बुरी तरह पीटता था।

यह भी पढ़ें : Shraddha murder case : ऐसे अपराधों के पीछे की वजह क्या?

श्रद्धा वॉकर के दोस्तों द्वारा किए गए खुलासे के मुताबिक श्रद्धा और आफताब 2018 से रिलेशनशिप में थे, लेकिन श्रद्धा ने 2019 में ही अपने दोस्तों को आफताब के बारे में बताया। डेटिंग के दौरान दोनों साथ रहने लगे। इस रिश्ते के खिलाफ श्रद्धा के माता-पिता थे।

Shraddha Murder Case

हालाँकि शुरुआत में रिश्ता खुशहाल था, जैसा कि श्रद्धा के दोस्तों ने बताया, बाद यह कड़वा हो गया।श्रद्धा की दोस्त ने नवंबर 2020 में हुई घटना से जुड़ी तस्वीरें शेयर कीं, जहां श्रद्धा के चेहरे पर चोट के निशान साफ ​​दिखाई दे रहे हैं। बताया जाता है कि आरोपी आफताब का अक्सर श्रद्धा से झगड़ा होता रहता था। जब भी दोनों के बीच विवाद होता था तो आफताब उसकी पिटाई कर देता था। बताया जाता है कि दोनों का 2020 में किसी बात को लेकर झगड़ा हो गया था, जिसके बाद आफताब ने श्रद्धा को बुरी तरह पीटा था।

यह भी पढ़ें : श्रद्धा हत्याकांड के बाद देहरादून के अनुपमा गुलाटी हत्याकांड की चर्चा 

श्रद्धा वाकर को 2020 में कंधे और पीठ में तेज दर्द के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया था। आफताब अमीन पूनावाला उस समय श्रद्धा वाकर के साथ मौजूद था। इस बात का खुलासा इलाज करने वाले एक डॉक्टर ने किया है।  26 वर्षीय महिला की उसके लिव-इन पार्टनर आफताब ने 18 मई को दिल्ली के छतरपुर स्थित उनके फ्लैट में हत्या कर दी थी। 06 महीने बाद श्रद्धा के पिता द्वारा गुमशुदगी की शिकायत दर्ज कराने के बाद यह जघन्य हत्याकांड सामने आया।

यह भी पढ़ें : Ankita Murder Case : अंकिता भंडारी की हत्या कैसे और क्यों हुई ?

एक न्यूज एजेंसी से बातचीत में श्रद्धा का 2020 में इलाज करने वाले नालासोपारा में स्थित ओजोन मल्टीस्पेशलिटी अस्पताल के डॉ एसपी शिंदे ने कहा कि कोई अत्यधिक चोट नहीं थी, लेकिन श्रद्धा ने कंधे और पीठ में तेज दर्द की शिकायत की।श्रद्धा ने चोट का कारण उन्होंने नहीं बताया। आफताब अमीन पूनावाला के दौरान श्रद्धा के परिवार का कोई भी सदस्य वहां नहीं था। अस्पताल में भर्ती के समय डॉक्टर ने आफताब अमीन पूनावाला को देखा था।

Viral Video