Singrauli News: दोस्त ने की दोस्त की हत्या, सरिया से तब तक मारता रहा जब तक उसकी साँसे थम नहीं गयी।

सोनू विश्वकर्मा, रिपोर्टर

सिंगरौली।। बरगवां थाना क्षेत्र में घटी निर्मम हत्या की गुत्थी को पुलिस ने सुलझा लिया है। चरित्र संदेह के शक में दोस्तों ने ही युवक की निर्मम हत्या कर दी थी। बरगवां पुलिस ने सभी आरोपियों को गिरफ्तार न्यायालय में पेश किया है।

जानकारी अनुसार मंगलवार प्रात: गोदवाली सरपंच रमेश बैस द्वारा मोबाईल फोन पर थाना प्रभारी बरगवॉ को सूचना दी गई कि गोदवाली के हरी प्रसाद बैस का लडका सुरेश उर्फ नारद बैस उम्र 25 वर्ष का शव उसी के सिंचाई वाले कुआ में उतराया हुआ पडा है। सूचना पर थाना प्रभारी आर पी सिंह अविलम्ब पुलिस टीम के साथ घटना स्थल पर रवाना होकर जॉच कार्यवाही प्रारम्भ किये तथा घटना की सूचना वरिष्ठ अधिकारियो को दिये।

सूचना पर पुलिस अधीक्षक सिंगरौली वीरेन्द्र सिंह द्वारा एसडीओपी मोरवा राजीव पाठक को अतिरिक्त बल के साथ एवं एफएसएल टीम को घटना स्थल पर पहुचने का निर्देश दिया गया तथा स्वत: पुलिस अधीक्षक सिंगरौली घटना स्थल पर पहुचकर विवेचना संबंधी आवश्यक मार्गदर्शन दिये। जॉच के अनुक्रम में मृतक सुरेश कुमार बैस उर्फ नारद बैश्य की मृत्यु हेड इंजूरी से होना पाये जाने पर अपराध क. 424 / 2022 धारा 302,201,120बी भा.द.वि. कायम कर विवेचना मे लिया गया।

दौरान विवेचना मुखबिर द्वारा सूचना मिली कि घटना दिनांक की संध्या मे रात करीब 08 बजे घटना स्थल से थोड़ी दूर पर ग्राम गोदवाली के ही शिव सागर उर्फ रिंकू वियार, अंशू वियार, उमेश उर्फ मुनेश वियार बैठकर नशा पत्ती कर रहे थे एवं आपस में बाते कर रहे थे तथा मुनेश वियार अंतिम बार मृतक सुरेश बैस के साथ देखा गया है। जो इस आधार पर मुनेश से पूछताछ प्रारम्भ की गई जो प्रारम्भिक पूछताछ में कोई खास बाते नही बताया, किन्तु तथ्यात्मक आधारो पर जब कड़ाई से पूछताछ की गई तो घटना परत दर परत खुलती गई ।

मृतक के परिजनो द्वारा बताया गया कि मृतक सुरेश बैस दिनांक घटना 05.06.2022 को रात करीब 10.00 बजे घर से यह बोलकर निकला था कि थोडी देर मे वापस आता हू किन्तु जब रात तक वापस नहीं आया तो दूसरे दिन सुबह इसके परिजनो द्वारा खोज बीन प्रारम्भ की गई, मृतक का मोबाईल भी बन्द बता रहा था। इनके द्वारा थाने में कोई गुमसुदगी दर्ज नही कराई गई। इसी दौरान दिनांक 07.06.22 को सुबह करीब 07 बजे मृतक के ही कुए मे उसका शव तैरता हुआ मिला तथा शरीर पर चोटे दिख रही थी। आरोपियो ने पूछताछ मे बताया कि मृतक का उनके घर आना जाना था जिसे वह पसन्द नही करते थे और मृतक के चरित्र पर संदेह करते थे।

जब मना करने पर मृतक नही माना तो इसी गुस्से बस मारने की योजना बना डाली। योजनानुसार मुनेश वियार को जिम्मेदारी दी गई की वह मृतक के कुए के पास स्थित पुलिया पर देर रात जब सुना साना हो जायेगा तो उसे बुलाकर शराब पिलायेगा, क्योकि मुनेश के बुलाने पर मृतक आ जायेगा। मुनेश को शराब रिंकू द्वारा उपलब्ध कराई गई, रात करीब 12 बजे जब नशे मे मत्त हालत में मृतक सुरेश बैस अपने घर तरफ कुए के पास से होकर रोड से जा रहा था तभी कुए के पास छिपे रिंकू एवं अंशू वियार ने उस पर हमला कर दिया, अंशू जो कि रस्सी लिये था पहले सुरेश बैस के गले में पीछे से रस्सी डाल कर जोर से खींच दिया जिससे वह शोर नही कर पाया तभी अंशू वियार जो कि हाथ मे सरिया मोडने वाला डाई राड लिये हुए था जोर से सुरेश के माथे पर वार कर दिया तथा अन्य कई बार किया, जिससे उसकी मौत हो गई।

मौत के बाद दोनो ने सुरेश का शव उसी के कुए मे डाल दिया तथा मृतक का चप्पल एक अलग कुए मे एवं मोबाईल तोड कर वही पास में तीसरे सिंचाई के कुए मे तथा डाई राड एक चौथे सिंचाई वाले कुए मे डाल दिये। जो आरोपियो कि निशा देही पर डाई राड, मृतक का मोबाईल, चप्पल, आदि कुओ का पानी निकलवा कर जप्त किया गया तथा आरोपीगण शिव सागर उर्फ रिंकू वियार पिता रमाशंकर वियार उम्र 21 वर्ष, अंशू वियार पिता रामलल्लू वियार उम्र 22 वर्ष उमेश उर्फ मुनेश वियार पिता उमाकान्त उर्फ उमा वियार उम्र 19 वर्ष सभी निवासी गोदवाली थाना बरगवॉ को गिरफ्तार कर आज दिनांक 09.06. 2022 को न्यायालय में पेश किया गया जो न्यायिक अभिरक्षा के जेल भेज दिये गये। उल्लेखनीय है कि उक्त अंधे कत्ल की घटना से पूरे क्षेत्र मे सनसनी सी फैल गई थी किन्तु पुलिस की तत्परता पूर्वक कार्यवाही के कारण लोगो ने राहत की शास ली है।