जयंत

मध्यप्रदेश के सिंगरौली में लुटेरा बहनोई हुआ गिरफ़्तार,दिन दहाड़े किया था 60 लाख की लूट

सिंगरौली पुलिस ने NCL जयंत परियोजना के आवासीय घर में पिछले हफ़्ते  हुई लूट का खुलासा किया है। पुलिस ने बताया की  मास्टरमाइंड पीड़ित के बहनोई सहित उसके दो साथियो को उड़ीसा से गिरफ्तार कर लिया गया है। गिरफ़्तार आरोपीयों  के कब्जे से 16 लाख रुपए नगद और लगभग 60 लाख से अधिक कीमत के सोने चांदी के गहने बरामद किए गए  हैं।

कैसे हुआ था लूट ?

जयंत क्षेत्र अंतर्गत बीते सप्ताह डंपर ऑपरेटर NCL कर्मी  के घर में दिनदहाड़े दो नकाबपोश ने लूट कर  नगदी और गहने लूट कर फरार हो गए थे। इस घटना के संबंध में पीड़ित ने शिकायत दर्ज कराई थी। जिसमें उसने बताया था  कि दो लोग सिविल शाखा से कंप्लेंट अटेंड करना आए हैं यह कह  कर दरवाजा खुलवाया और मरम्मत करने के बहाने अंदर घुस गए। पीड़ित और उसके पति का हाथ मुंह बांधकर धमकाया कि यदि हल्ला करोगे तो तुम्हारे बच्चों सहित सब को जान से मार देंगे। बदमाशॉ ने बेडरूम में पलंग के नीचे से ट्राली बैग एवं पहचान के एक अधिकारी एस.के पानीग्रही के दो सूटकेस एक ट्राली बैग लूटकर फरार हो गए। और जाते जाते बाहर से मेन गेट का दरवाजा बंद कर दिया। 

बहनोई ही निकाला लुटेरा 

इस पूरी घटना में एक चौकने वाली बात थी जिससे पुलिस को  अंदेशा हुआ की इस लूट की घटना में घर के किसी सदस्य का हाथ है। वह बात थी लूट की घटना अंजाम देने वालों ने पीड़ित के साथ ना कोई जोर जबरदस्ती की और ना ही मारपीट।पुलिस ने मामले का खुलासा करते हुए बताया कि मुख्य आरोपी अनिल मेहर को पकड़कर जब पूछताछ की गई तो उसने अपने अन्य साथी राजेश मिश्रा एवं विष्णु सोना लूट की घटना को करना कबूल किया। पुलिस ने पकड़े गए आरोपियोंके कब्जे से 850 ग्राम सोना, 500 ग्राम चांदी सहित 16 लाख 35 हजार रुपए नगद बरामद किए हैं।

मध्यप्रदेश के सिंगरौली में लुटेरा बहनोई हुआ गिरफ़्तार,दिन दहाड़े किया था 60 लाख की लूट

हत्या का खुलासा करते हुए एसपी ने बताया कि पीड़ित का पति सिविल शाखा में घर के मेंटेनेंस की शिकायत की थी और लुटेरे भी घर के मेंटेनेंस की बात कहकर घर के भीतर पहुंचे थे।  लुटेरे घर के भीतर पहुंचते एनसीएल कर्मी की पत्नी दमयंती का हाथ और मुंह बांध दिया था जिससे वह चिल्लला ना सके और बिना कुछ पूछे घर में रखें बैग को लेकर रफूचक्कर हो गए। इस लूट को अंजाम देने मैं बाहर के लुटेरे नहीं बल्कि रिश्ते में बहनोई ही लूटेरा निकला।

इनकी रही महत्वपूर्ण भूमिका

इस लूट की घटना का खुलासा करने में टी.आई,राघवेंद्र द्विवेदी,टी.आई.अरुण कुमार पांडे, टी.आई.यूपी सिंह, उपनिरीक्षक अभिमन्यु द्विवेदी, जितेंद्र सिंह भदोरिया,एन.पी तिवारी, सहायक उपनिरीक्षक के.पी सिंह, राज बहोर तिवारी, जीवेन्द्र मिश्रा, पंकज सिंह चौहान जगत द्विवेदी अभिमन्यु द्विवेदी सहित सारे वर्सेस आरक्षक विजय खरे, सोबाल वर्मा दीपक परस्ते की महत्वपूर्ण भूमिका रही।

पूरा ख़बर पढने के लिए क्लिक करें

अब्दुल रशीद

Abdul Rashid is a well-known Journalist, Political Analyst and a Columnist on national issue. Cont.No.-7805875468, Email - editor@urjanchaltiger.in
Back to top button