चितरंगी

कीचड़युक्त क्यारीयों जैसा प्रधानमंत्री सड़क देखना है, तो आइए सिंगरौली

राकेश विश्वकर्मा/ सोनू विश्वकर्मा

सिंगरौली/चितरंगी।। सिंगरौली जिले के चितरंगी क्षेत्र के गोपला गाँव में प्रधानमंत्री सड़क खेत के कीचड़युक्त क्यारीयों जैसा है,जिस पर वाहन तो दूर क्षेत्रीय लोगों को पैदल गमन करना मुश्किल हो गया है। बरसात आते ही रोपाई करने योग्य कीचड़युक्त क्यारीयों जैसे बनी प्रधानमंत्री सड़क अब  ग्रामीणों के लिए सिर दर्द बन गया है।


पढिए :सिंगरौली के 250 गांवों के उपभोक्ताओं को मिलेगी डबल लाइन से गुणवत्ता पूर्ण बिजली


मुरमीकरण सड़क को प्रधानमंत्री सड़क बता कर जिम्मेदार पैसे डकार गए !

ग्रामीणों ने बताया की मुरमीकरण कर सड़क निर्माण को प्रधानमंत्री सड़क के नाम पर दर्शित किया गया है, लेकिन पक्की सड़क के जगह पर मुरुम के द्वारा गुणवत्ताहिन मुरमीकरण कर सड़क बनवाकर प्रधानमंत्री सड़क की बड़ी रक़म को बहुत ही आसानी से डकार लिए हैं। 

बरसात में आवागमन मुश्किल हो जाता है। 

ग्रामवासीओं का कहना है कि गर्मी व ठण्डी में तो रोड पर आवागमन के लिए रोड तो ठीकठाक ही रहता है लेकिन बरसात के मौसम में आवागमन मुश्किल हो जाता है। 


पढिए :नशा अपने साथ अंधेरा, बर्बादी और तबाही लेकर आता है।-PM मोदी


जनप्रतिनिधियों को नहीं आम जनता का ख़्याल 

भले ही सिंगरौली के विकास का डंका जनप्रतिनिधियों द्वारा बजाया जाता हो लेकिन हक़ीक़त बेहद कड़वा है। यहां जनकल्याण कि योजनाओं में खुला भ्रष्टाचार होता है,जिसकी बानगी है प्रधानमंत्री रोड जो बनी है गोपला से घोरावल जाने के लिए।

पूरा ख़बर पढने के लिए क्लिक करें
Back to top button