सिंगरौली पुलिस ने नाबालिक के साथ दुष्कर्म करने वाले आरोपी को पुणे महाराष्ट्र से किया गिरफ्तार

सिंगरौली बैढ़न कोतवाली थाना के खुटार पुलिस चौकी को बड़ी सफलता मिली है। नाबालिक बच्ची के साथ दुष्कर्म करने वाला फरार चल रहा आरोपी पुणे महाराष्ट्र से गिरफ्तार कर बैढ़न जिला न्यायालय में पेश किया गया। जिसके बाद आरोपी को पचौर जिला जेल भेजा दिया गया।

खुटार चौकी के रजबांध गांव में नाबालिक बच्ची के साथ दुष्कर्म कर घटना को अंजाम देकर युवक घटना दिनांक से ही फरार चल रहा था, जिसे खुटार पुलिस ने काफी पता तलाश करने के बाद पुणे महाराष्ट्र से पकड़ कर सिंगरौली लेकर आई। उसके बाद आरोपी को बैढ़न न्यायालय में पेश किया गया और न्यायालय द्वारा आरोपी को जिला जेल पचौर भेज दिया।

खुटार पुलिस चौकी क्षेत्र से पीड़ित नाबालिग के पिता सुनील कुमार के द्वारा बैढ़न थाना में रिपोर्ट दर्ज कराया गया था की मेरे नाबालिग बच्ची के साथ आशीष कुमार केवट के द्वारा दिनांक 18 मई 2022 दिन बुधवार शाम के समय घर में पीड़िता के माता-पिता की गैर-मौजूदगी में घर में सुनसान पाने के वजह से घर में घुसकर मेरे नाबालिग बच्ची के साथ दुष्कर्म किया है।arrest

फरियादी के रिपोर्ट पर चौकी प्रभारी सुरेंद्र यादव के द्वारा मामले को गंभीरता से लेते हुए विवेचना कर जांच में जुट गए। इसके बाद काफी पता तलाश करने के बाद साइबर लोकेशन के माध्यम से पता चला कि आरोपी आशीष कुमार केवट पुणे महाराष्ट्र में हैं। जिस पर खुटार चौकी प्रभारी सुरेंद्र यादव के द्वारा बैढ़न कोतवाली थाना प्रभारी अरुण कुमार पांडेय को सूचना से अवगत करा कर अपने वरिष्ठ अधिकारियों के दिशा निर्देश पर पुणे महाराष्ट्र के लिए रवाना हुए।

इसके बाद पुणे महाराष्ट्र के स्थानीय पुलिस के माध्यम से पता तलाश किया गया। जिसे काफी मशक्कत के बाद आरोपी को अपने गिरफ्त में लेकर पुणे महाराष्ट्र से सिंगरौली वापस आए। इसके बाद बैढ़न कोतवाली में पीड़ित एवं उसके माता-पिता के सामने आरोपी की पहचान कराया गया। इसके बाद पहचान के उपरांत आरोपी रजबांधा निवासी आशीष कुमार केवट पिता राम नरेश केवट उम्र 20 वर्ष  के परिजनों को गिरफ्तारी का सूचना देकर आरोपी के खिलाफ अप० क्र० 0701/22 धारा 450, 376, 376(1) 506 3/4 पॉक्सो एक्ट के तहत जिला न्यायालय बैढ़न में पेश किया गया जहां से उसे पचौर जेल भेज दिया गया।

उक्त कार्यवाही में सिंगरौली के खुटार चौकी प्रभारी सुरेंद्र यादव एवं प्रधान आरक्षक गुलाब सिंह, विजय पटेल, आरक्षक अनूप सिंह राजपूत का सराहनीय योगदान रहा।

Viral Video