NEWSमध्यप्रदेशशिक्षा

मध्यप्रदेश : 70 हज़ार से ज़्यादा शिक्षकों की वरिष्ठता हो सकती है ख़त्म !

भोपाल।। मध्यप्रदेश में 70 हज़ार से ज़्यादा शिक्षकों की वरिष्ठता समाप्त हो सकती है। प्राप्त जानकारी के अनुसार1998से नियुक्त किये गए वे शिक्षाकर्मी जिन्हें अध्यापक संवर्ग में समायोजित किया था, उनकी वरिष्ठता समाप्त हो सकती है। और ऐसे शिक्षाकर्मियों की संख्या क़रीब 70 हज़ार है।

आपको बता दें कि 2018 विधानसभा चुनाव से पहले तत्कालीन राज्य सरकार के निर्देश पर मध्यप्रदेश राज्य स्कूल शिक्षा सेवा के नाम से कैडर बनाया गया। जिसमें 2018 से नियुक्ति देने का प्रावधान है। इस कैडर के विरोध में कई अध्यापक संगठनों ने हाई कोर्ट में अपनी याचिका दायर की है।

यदि विभाग के द्वारा नए कैडर में नियुक्ति के स्थान पर अध्यापकों का समायोजन किया जाता है तो पहले की तरह शिक्षाकर्मी से अध्यापक बनने पर सेवा अवधि के दौरान जो सभी सुविधाएं निरंतर मिल रही थी उन सभी सुविधाओं से वंचित हो सकते हैं।जैसे परिवार पेंशन, क्रमोन्नति, प्रमोशन, ग्रेजुएटी, समयमान वेतनमान, अनुकम्पा, अर्जित अवकाश नकदीकरण आदि सभी सुविधाओं से ऐसे अध्यापकों को वंचित होना पड़ेगा।

Adv.

न्यूज़ डेस्क, उर्जांचल टाईगर

उर्जांचल टाईगर (राष्ट्रीय हिन्दी मासिक पत्रिका) के दैनिक न्यूज़ पोर्टल पर समाचार और विज्ञापन देने के लिए संपर्क करें। व्हाट्स ऐप नंबर -7805875468 मेल आईडी - editor@urjanchaltiger.in

Leave a Reply

Back to top button
Close
Close