NEWSमध्यप्रदेश

शिवराज़ सरकार हफ्ते भर मे दूसरी बार लेने जा रही है 1000 करोड़ रुपए का कर्ज।

मध्यप्रदेश के चुनावी रैलियों में किए जा रहे तमाम दावो और वादों के बीच एक कड़वा सच यह है की प्रदेश की आर्थिक स्थिति ठीक नहीं है। यही कारण है की सरकार को हर माह कर्ज लेना पड़ रहा है। अब सरकार फिर 1000 करोड़ रुपए का कर्ज लेने वाली है। तमाम कागजी खनपूर्त के बाद यह कर्ज सरकार को 14 अक्टूबर तक मिल जाएगा। आपको बता दे के पिछले हफ्ते 07 अक्टूबर को सरकार 1000 करोड़ रुपए का लोन लिया था।

राजपत्र के मुताबिक मध्य प्रदेश सरकार यह यह कर्ज खुले बाज़ार से आरबीआई के माध्यम से लेने वाली है। सरकार ने कर्ज लेने से पहले आरबीआई को 31 मार्च 2019 तक अपनी वित्तीय स्थिति का ब्यौरा दे दिया है। जिसमें बताया गया है की कर्ज लेने की तारीख़ तक 1 लाख 80 हजार 988 करोड़ रुपए का मध्य्प्र्देश सरकार पर कर्ज है।

शिवराज सरकार में साल भर में लिया गया कर्ज

  • 07 अक्टूबर को 1000 करोड़ रुपए
  • 16 सितंबर को 1000 करोड़ रुपए
  • 09 सितंबर को 1000 करोड़ रुपए
  • 12 अगस्त को 1000 करोड़ रुपए
  • 04 अगस्त को 1000 करोड़ रुपए
  • 14 जुलाई को 1000 करोड़ रुपए
  • 07 जुलाई को 1000 करोड़ रुपए
  • 09 जून को 500 करोड़ रुपए
  • 02 जून को 500 करोड़ रुपए
  • 07 अप्रैल को 500 करोड़ रुपए

Adv.

न्यूज़ डेस्क, उर्जांचल टाईगर

उर्जांचल टाईगर (राष्ट्रीय हिन्दी मासिक पत्रिका) के दैनिक न्यूज़ पोर्टल पर समाचार और विज्ञापन देने के लिए संपर्क करें। व्हाट्स ऐप नंबर -7805875468 मेल आईडी - editor@urjanchaltiger.in

Leave a Reply

Back to top button
Close
Close