सिंगरौली जिले में पर्यटन सुविधाओ के विस्तार की अपार संभवना है।

सिंगरौली जिले में पर्यटन सुविधाओ के विस्तार की अपार संभवना है। मुड़वानी डैम को एक आदर्श ईको पार्क के रूप में विकशित किया जायेगा। कोल माईन्स के द्वारा भी अपने क्षेत्रांतर्गत पर्यटन सुविधाओ के लिए अपना प्रोजेक्ट तैयार करे।

उक्त आशय का वक्तव्य जिले के एक दिवसीय प्रवास पर आये हुये श्री विनोद गोटिया माननीय अध्यक्ष एमपी स्टेट टूरिज्म डेवलपमेंट कार्पोरेशन कैबिनेट मंत्री दर्जा प्राप्त के द्वारा अधिकारियो एवं जन प्रतिनिधियो, समाजसेवियो के साथ आयोजित बैठक के दौरान दिया गया।

Also Read –मुड़वानी ईको पार्क मे 15 नवम्बर से आम जन मना सकेगे पिकनिक

अध्यक्ष एमपी स्टेट टूरिज्म डेवलपमेंट कार्पोरेशन विनोद गोटिया की अध्यक्षता एवं सिंगरौली विधानसभा के विधायक राम लल्लू बैस, चितरंगी विधानसभा के विधायक अमर सिंह, देवसर विधानसभा के विधायक सुभाष रामचरित बर्मा, शैलेन्द बरूआ अध्यक्ष मध्यप्रदेश पाठ् पुस्तक निगम,कलेक्टर राजीव रंजन मीना, पुलिस अधीक्षक बीरेन्द्र सिंह, वनमण्डल अधिकारी व्ही मधुकुमार, भाजपा जिलाध्यक्ष  बीरन्द्र गोयल के  उपस्थिति में जिले में पर्यटन सुविधाओ के विस्तार के संबंध में बैठक आयोजित हुई।

Video : कलयुग में सतयुग का नज़ारा,तेंदुआ और हिरण एक ही घाट पर पी रहे पानी।

बैठक को संबोधित करते हुये विनोद गोटिया ने कहा कि मेरे द्वारा मुड़वानी ईको पार्क का भ्रमण किया गया जन प्रतिनिधियो के द्वारा अवगत कराया गया है कि डैम के रास्ते से कोल परिवहन किया जाता है। जिसके कारण पार्क के आस पास का वातावरण प्रदूषित होता है। जिसके लिए उन्होने कहा कि कोल परिवहन के लिए अलग से व्यवस्था बनाने के लिए जिला प्रशासन द्वारा पहल की जाये।

  • सिंगरौली विधायक के द्वारा यह सुझाव दिया गया है कि औढ़ी मंदिर स्थित टिपा झरिया को पर्यटक स्थल के रूप में विकशित किया जाये।
  • देवसर विधानसभा के विधायक के द्वारा सुझाव दिया गया है कि माड़ा, नगवा एवं काचन डैम के उपर रेस्ट हाउस का डेवलपमेंट तथा पर्यटक स्थल के रूप में विकशित किया जाये।

बैठक में ही प्राप्त सुझावो को गंभीरता पूर्वक लेते हुये माननीय अध्यक्ष के द्वारा टूरिज्म विभाग के अधिकारियो को निर्देश दिया गया कि उपरोक्त स्थलो का भ्रमण कर कार्य योजना तैयार करे।तथा प्रत्येक माह मे एक दिन जन प्रतिनिधियो के साथ बैठक कर पर्यटन विकास के संबंध में चर्चा करे।

उन्होने कहा कि सिंगरौली के नागरिको को पर्यटन से अधिक से अधिक लाभ प्राप्त हो सके इसके लिए कार्य योजना तैयार की जाये। उन्होने चितरंगी क्षेत्रांतर्गत भी स्थित ऐसे स्थलो का माननीय विधायक चितरंगी से सम्पर्क कर कार्य योजना तैयार करे।ताकि सभी विधान सभाओ में पर्यटन को बढावा दिया जा सके।

बैठक के दौरान जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी साकेत मालवीय, प्राधिकारण के पूर्व अध्यक्ष गिरीष द्विवेदी, नगर निगम के पूर्व अध्यक्ष चन्द्र प्रताप विश्वकर्मा, एसडीएम ऋषि पवार, विकास सिंह,सम्पदा सर्राफ, वरिष्ट समाजसेवी राम निवास साह, अरविंद दुबे, आशा अरूण यादव, डीएन शुक्ला, मुकेश तिवारी सहित जिला एवं एनटीपीसी के अधिकारी उपस्थित रहे।