Knowledge : हवाई जहाज के इंजन पर मुर्गे क्यों फेंके जाते हैं ?

Knowledge : हवाई जहाज के इंजन पर मुर्गे क्यों फेंके जाते हैं ? इस सवाल का जब समझने के लिए टीवी टैस्टिंग का मापदंड समझ लीजिए। टीवी की टैस्टिंग के दौरान टीवी को दो फुट की उंचाई से गिरा कर टैस्ट करते हैं। ये एक टैस्टिंग का मापदंड है। यह सब टीवी की परफौरमैंस सही रहे इसके लिए किया जाता है।

हवाई जहाज के इंजन पर मुर्गे क्यों फेंके जाते हैं ?

हवाई जहाज निर्माता पक्षी-टकराव सिमुलेटर का उपयोग यह सुनिश्चित करने के लिए करते हैं कि इंजन किसी पक्षी के अंतर्ग्रहण का सामना कर सकते हैं। लेकिन अगर एक पक्षी की टक्कर एक विमान इंजन को अक्षम कर देती है, तो इसका मतलब यह नहीं है कि दुर्घटना अपरिहार्य है।


Read More : मध्य प्रदेश का VIP पेड़, जिसकी सुरक्षा में खर्च होते हैं 15 लाख रुपए सालाना।


पक्षियों को यह सुनिश्चित करने के लिए हवाई जहाज पर दागा जाता है कि यह एक वास्तविक पक्षी की टक्कर का सामना कर सके। परीक्षण विंड शील्ड और इंजन दोनों के लिए किए जाते हैं। पहली “Chicken Gun” 1950 के दशक में हैटफील्ड, हर्टफोर्डशायर में डे हैविलैंड एयरक्राफ्ट में बनाई गई थी, जिसमें परीक्षण के लिए मुर्गियां एक गांव की दुकान से खरीदी गई थीं।

“Chicken Gun” एक संपीड़ित-हवा की तोप है ( compressed air gun) जिसका उपयोग परीक्षण के लिए विमान के इंजन पर डमी पक्षियों को दागने के लिए किया जाता है। “Chicken Gun” को हाई-स्पीड बर्ड स्ट्राइक का अनुकरण करने के लिए डिज़ाइन किया गया है। डमी मानक आकार की मुर्गियों का उपयोग किया जाता है। इसका उपयोग विंडशील्ड का परीक्षण करने के लिए भी किया जाता है।

नोट : यह जानकारी आपको अच्छी लगी है तो Google News पर फॉलो और शेयर अवश्य करें। धन्यवाद।

Viral Video